कोरोना का खतरा ख़त्म होने का नाम ही नहीं ले रहा : भारत में कोरोना के 3824 नए केस

 


देश में कोरोना के आंकड़े अब डराने लगे हैं. भारत में शनिवार को कोरोना के 3824 नए केस दर्ज किए गए. रोज मामलों के हिसाब से ये 6 महीने में सबसे ज्यादा संख्या है. वहीं, पिछले सात दिनों में कोरोना के मामलों में जिस तरह वृद्धि हुई है वह तीसरी लहर के बाद सबसे ज्यादा है.

भारत में पिछले सप्ताह 26 मार्च-1 अप्रैल के दौरान 18,450 नए मामले दर्ज किए, जो इसके पहले सप्ताह के 8,781 के दोगुने से भी ज्यादा है. कोरोना मामलों के दोगुना होने का समय 7 दिन से भी कम रह गया है. पिछली बार ऐसा तीसरी लहर के दौरान हुआ था जब एक सप्ताह में ही रोजाना के आंकड़े दोगुने बढ़ जा रहे थे. हालांकि, इस दौरान राहत की बात ये है कि कोरोना से होने वाली मौत के मामले में मामूली वृद्धि हुई है. पिछले सप्ताह 36 लोगों की कोरोना की वजह से मौत हुई, जबकि उसके पहले ये आंकड़ा 29 था.

केरल में सबसे ज्यादा मामले

पिछले सात दिनों में दोगुनी वृद्धि के मामलों में योगदान देने वाले राज्यों में केरल पहले नंबर पर हैं. केरल में एक सप्ताह में कोरोना मामलों की संख्या तीन गुनी छलांग लगाकर 1333 से बढ़कर करीब 4000 पहुंच गई. अन्य राज्य जहां सबसे तेज बढ़त देखी गई है वो गोवा, दिल्ली, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश हैं. इनमें से अधिकांश राज्यों में पिछले सप्ताह में उसके पहले के मुकाबले कोरोना मामलों संख्या तीन गुना बढ़ गई है. हिमाचल प्रदेश में पिछले सप्ताह कोरोना मामले 409 से बढ़कर 1200 पहुंच गए.