स्वरूपानंद महाविद्यालय में पराक्रम दिवस का उल्लास पूर्वक आयोजन

 भिलाई।

असल बात न्यूज़।। 

 स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय, हुडको ,भिलाई में कला विभाग द्वारा आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत पराक्रम दिवस के अवसर पर विविध कार्यक्रमों का उल्लास पूर्वक आयोजन किया गया। कार्यक्रम के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए संयोजिका डॉ सावित्री शर्मा, प्रोफ़ेसर, शिक्षा विभाग ने कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस के जन्मदिवस को पराक्रम दिवस के रूप में मनाया जाता है। नेताजी की तरह विपरीत परिस्थितियों का सामना करने के लिए धैर्य के साथ कार्य करना और देशभक्ति की भावना का युवाओं में संचार करना ही इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य है। 

महाविद्यालय के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ दीपक शर्मा ने कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में नेताजी का असीम योगदान अतुलनीय है एवं भावी पीढ़ी को प्रेरित करने वाला है। वह पूर्ण स्वराज के पक्षधर थे एवं विवेकानंद की शिक्षाओं से अधिक प्रभावित थे और उन्हें अपना आध्यात्मिक गुरु मानते थे। इस दिन के जरिए स्वतंत्रता संग्राम आंदोलन को याद किया जाता है। 

महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ  हंसा शुक्ला ने अपने उदबोधन में कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस का अदम्य साहस और राष्ट्र के प्रति निस्वार्थ सेवा का सम्मान करने और उन्हें याद रखने के लिए पराक्रम दिवस मनाया जाता है। उनके ओजस्वी नारों "तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हें आजादी दूंगा "ने हर भारतीय के खून में उबाल ला दिया था और स्वतंत्रता संग्राम की दिशा तय कर दी थी। उन्होंने कहा कि उनके इस नारे को आत्मसात करते हुए महाविद्यालय द्वारा प्रतिवर्ष ब्लड डोनेशन कैंप का उत्साह पूर्वक आयोजन किया जाता है। 

कला संकाय के विद्यार्थियों ने इस अवसर पर शहीद चौक जाकर नेता जी की प्रतिमा को माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया एवं उनके आदर्शों को अपने जीवन में उतारने का संकल्प लिया । इस अवसर पर भाषण प्रतियोगिता एवं निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसका विषय था-- "स्वतंत्रता संघर्ष में सुभाष चंद्र बोस का योगदान "।भाषण प्रतियोगिता में प्रथम स्थान कला संकाय के विद्यार्थी पृथ्वी सिंह राजपूत ने प्राप्त किया। उन्होंने कहा कि नेता जी का यह कथन की संघर्ष ने मुझे मनुष्य बनाया उससे मुझ में आत्मविश्वास उत्पन्न हुआ जो पहले मुझ में नहीं था। यह मुझे अत्यधिक प्रेरित करता है अपने भाषण द्वारा उन्होंने सबका मन जीत लिया और खूब तालियां बटोरी । 

निबंध प्रतियोगिता में प्रथम स्थान बबली यादव, शिक्षा संकाय ने प्राप्त किया द्वितीय स्थान पर किरण सोनी एवं तृतीय स्थान वंदना एवं चंचल साहू चतुर्थ सेमेस्टर ने प्राप्त किया ।समस्त विजेता प्रतिभागियों को महाविद्यालय परिवार की तरफ से शुभकामनाएं प्रेषित की गई। 

कार्यक्रम का सफल संचालन सहायक प्राध्यापक, गोल्डी सिंह राजपूत एवं धन्यवाद ज्ञापन सुश्री निधि शर्मा ने किया । इस अवसर पर महाविद्यालय के समस्त प्राध्यापक एवं विद्यार्थी उपस्थित थे।