पीएम आवास पर प्रदेश सरकार काे घेरने भाजपा का बड़ा आंदोलन

 


 रायपुर। राज्य सरकार काे चुनावी साल में विपक्षी पार्टी भाजपा ने कई मुद्दों पर घेरने की रणनीति बनाई है। इसी कड़ी में प्रदेश भाजपा संगठन ने अब पीएम आवास को लेकर बड़ा आंदोलन करने की तैयारी की है। इसको लेकर हर विधानसभा में इस समय मकानों से वंचित लाखों हितग्राहियों से मुलाकात करके उनके फार्म भरवाया जा रहा है। सबसे पहले सभी 90 विधानसभाओं में नए साल में आंदोलन होगा, इसके बाद प्रदेश स्तर का बड़ा आंदोलन दुर्ग में होगा। इसमें रायपुर के भाजयुमो और बिलासपुर की मतहारी हुंकार रैली की तरह एक लाख से ज्यादा लोगों को जुटाने का लक्ष्य है।
अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा ने प्रदेश सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है। भाजपा ने लगातार बड़े आंदोलनों की रणनीति तैयार की है। अब तक दो बड़े आंदोलन पहला भाजयुमो का रायपुर में और दूसरा महिला मोर्चा का बिलासपुर में है चुका है। तीसरा बड़ा आंदोलन पीएम आवास को लेकर अब दुर्ग में करने की तैयारी है। इसको लेकर राजनांदगांव में अगले माह होने वाली कार्यसमिति में अंतिम रणनीति तैयार होगी। वैसे इसको लेकर प्रदेश प्रभारी ओम माथुर के पहले आगमन पर बनाई गई रणनीति पर काम चल रहा है।
हितग्राहियों से भरा रहे फार्म
तय रणनीति के मुताबिक इस समय प्रदेश भाजपा संगठन पीएम आवास से वंचित प्रदेश के 11 लाख से ज्यादा हितग्राहियों में से ज्यादा से ज्यादा लोगों से संपर्क करके उनसे फार्म भरवाने का काम कर रही है। इस समय भाजपा का विधानसभाओं में दिग्गज नेताओं की टीमों का दौरा चल रहा है। इसी दौरे में वंचित लोगों तक पहुंचकर उनसे जहां फार्म भरवाया जा रहा है, वहीं उनको बताया जा रहा है कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार की लापरवाही के कारण ही केंद्र सरकार की योजना का उनको लाभ नहीं मिल सका है। ऐसे में इनको भाजपा के आंदोलन में शामिल भी होने का न्योता दिया जा रहा है।
हर विस में आंदोलन
आंदोलनों में पहले विधानसभा के बाद प्रदेश स्तर का आंदोलन होगा। विधानसभा स्तर का आंदोलन नए साल के पहले ही माह में किया जाएगा। सभी विधानसभाओं में आंदोलन पूरा होने के बाद दुर्ग में बड़ा आंदोलन होगा। दुर्ग का आंदोलन जनवरी के अंतिम सप्ताह या फिर फरवरी के पहले सप्ताह में करने की तैयारी है। इसमें जहां भाजपा के हजारों कार्यकर्ता शामिल होंगे, वहीं हजारों की संख्या में पीएम आवास से वंतित हितग्राहियों भी शामिल होंगे।