2023 की शुरुआत में शनि गोचर से बनेगा विपरीत राजयोग, इन राशियों को होगा बंपर लाभ

धर्म कर्म

असल बात न्यूज़।। 



 ज्योतिष शास्त्र में शनिदेव को न्याय का देवता माना गया है। न्यायाधीश शनिदेव 17 जनवरी 2023 को मकर राशि से निकलकर कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे। शनि के कुंभ राशि में आने से कुछ राशियों के लिए विपरीत राजयोग का निर्माण होगा। विपरीत राजयोग से इन राशियों को बंपर लाभ होगा। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, शनि खराब भावों का स्वामी हो और उसी स्थान में चला जाए तो विपरीत राजयोग का बनाता है। जानें शनि गोचर से किन राशियों को होगा धन लाभ, मिलेगी करियर में कामयाबी-

कर्क राशि- कर्क राशि में शनिदेव अष्टम भाव के स्वामी हैं। 17 जनवरी को शनिदेव इसी भाव में गोचर करेंगे। शनि के अष्टम भाव में प्रवेश करने से विपरीत राजयोग का निर्माण होगा। इस दौरान कर्क राशि वालों को मान-सम्मान के साथ किसी बड़े पद की प्राप्ति हो सकती है। अटके हुए धन की वापसी होने के आसार हैं। विदेश यात्रा के योग बन रहे हैं।

कन्या राशि- कन्या राशि के छठवें भाव के स्वामी शनिदेव हैं और वे इसी भाव में गोचर करेंगे। जिससे विपरीत राजयोग का निर्माण होगा। शनि गोचर काल में आपको कोर्ट-कचहरी के मामलों से निजात मिल सकती है। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने वाले जातकों को सफलता मिलने के योग बनेंगे। बीमारी से छुटकारा मिलेगा। नौकरी पेशा करने वाले जातकों को पदोन्नति मिल सकती है।

धनु राशि- शनि के कुंभ राशि में प्रवेश करते ही धनु राशि के जातकों को शनि की साढ़ेसाती से मुक्ति मिल जाएगी। शनि धनु राशि के तीसरे भाव के स्वामी हैं और इसी भाव में गोचर करेंगे। इस अवधि में आपके साहस व पराक्रम में वृद्धि होगी। जोखिम भरे फैसले ले सकते हैं। नौकरी में पदोन्नति के साथ आय में वृद्धि के योग बनेंगे।

मीन राशि- इस राशि के द्वादश भाव के स्वामी शनिदेव हैं और इसी भाव में प्रवेश करेंगे। जिससे विपरीत राजयोग का निर्माण होगा। इस राशि के जातकों के लिए यात्रा का योग बनेगा। पुरानी बीमारी से छुटकारा मिल सकता है। नौकरी पेशा करने वाले लोगों के लिए यह अनुकूल समय है। कारोबारियों को लाभ मिलेगा। जिस काम में हाथ डालेंगे सफलता हासिल होगी।