राजधानी में बारह क्रेन की मदद से सात घाटों में हाेगा गणेश विसर्जन

 


  भोपाल. राजधानी में बारह बड़ी क्रेन की मदद से सात घाटों में गणेश विसर्जन किया जाएगा। इन घाटों में नगर निगम द्वारा करीब 200 अधिकारियों और कर्मचारियों को तैनात किया गया है। वहीं घरों में विराजे जाने वाले छोटे गणेश के लिए शहर के विभिन्न 15 स्थानों पर विसर्जन के लिए कुंड रखे जाएंगे। नगर निगम अधिकारियों ने बताया कि घाटों में सुरक्षा के मद्देनजर व्यापक इंतजाम किए गए हैं। हर घाट पर नोडल अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है। विसर्जन घाटों में टेंट, माईक सिस्टम, टेबल-कुर्सियों के साथ कंट्रोल रुम भी बनाया गया है। सुरक्षित गणेश विसर्जन के लिए प्रेमपुरा विसर्जन घाट पर तीन टेलीस्कोपिंग क्रेन, रानी कमलापति घाट पर दो, खटलापुरा घाट पर एक, संत हिरदाराम नगर घाट में में दो, हथाईखेड़ा में दो, मालीखेड़ी में एक और ईंटखेड़ी विसर्जन घाट में एक क्रेन की व्यवस्था की गई है। साथ ही पर्याप्त संख्या में लाइफ जैकेट, ट्यूब, रस्सी, काटा, इमरजेंसी लाइट, फायर फाइटर, रेस्क्यू वाहन और गोताखाेर उपलब्ध रहेंगे।

शहर में इन 15 स्थानों पर बनाए जाएंगे विसर्जन कुंडः गणेश प्रतिमाओं को विसर्जित करने शहर में 15 जगहों पर विसर्जन कुंड भी रखे जाएंगे। मुख्य रूप से लालघाटी चौराहा, गांधी नगर, करोंद चौराहा, भवानी चौक, नादरा बस स्टैंड, 5 नंबर स्टॉप पेट्रोल पंप के पास, शाहपुरा चौराहा झील, सर्व धर्म चौराहा, आशिमा मॉल, अवधपुरी चौराहा, आनंद नगर चौराहा, अयोध्या बायपास मिनाल चौराहा, प्रभात चौराहा, पुलिस कंट्रोल रूम यातायात पार्क के सामने और बावड़िया कलां में विसर्जन कुंड बनाए जाएंगे। जरूरत के अनुसार विसर्जन कुंडों की संख्या बढ़ाई जा सकती है।