गुजरात के 21 जिलों में भारी बारिश, 61 की मौत, 2000 को एयर लिफ्ट किया

 


 गुजरात समेत आधे भारत में भारी बारिश का दौर जारी है। गुजरात के छोटा उदयपुर में 1 दिन में 20 इंच बारिश हुई। इसी तरह अहमदाबाद में रविवार शाम 7 बजे से शुरू हुई भारी बारिश का दौर सोेमवार सुबह 4 बजे थमा। इस दौरान कहीं 18 इंच तो कहीं 12 इंच बारिश हुई। छोटा उदयपुर में हालात बहुत खराब हैं। यहां पुलिस और स्थानीय लोगों ने रेस्क्यु ऑपरेशन चलाकर लोगों को बचाया। कई महिलाओं और बच्चों को कंधे पर उठाकर सुरक्षित पहुंचाया गया। इस बीच, भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने अगले 7 दिन के लिए अलर्ट जारी किया है। इस दौरान दक्षिण गुजरात, मध्य गुजरात और सौराष्ट्र में भारी बारिश हो सकती है।

ताजा समाचार है कि गुजरात के 21 जिलों में भारी बारिश हो रही है। इनमें कहीं रेड तो कहीं ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। एनडीआरएफ की टीमों को तैयार रहने को कहा गया है। सबसे ज्यादा प्रभावित जिलों में वलसाड़ भी शामिल है। यहां से लोगों को एयर लिफ्ट किया जा रहा है।

कई जिलों में भारी वर्षा, 2000 लोगों को सुरक्षित निकाला गया

दक्षिण और मध्य गुजरात के कई जिलों में भारी वर्षा हुई है, जिससे नदियां उफान पर हैं। निचले इलाकों में पानी भर गया है। बढ़ते खतरे को देखते हुए लगभग 2000 लोगों को सुरक्षित निकाला गया है। मौसम विभाग ने डांग, नवसारी और वलसाड जिलों में अगले पांच दिनों में भारी वर्षा का अलर्ट जारी किया है। छोटा उदेपुर में रविवार को शाम छह बजे तक सिर्फ 12 घंटों में 433 मिमी वर्षा हुई। इससे निचले इलाकों में बाढ़ आ गई है।

Image

Image

Image

अचानक आई बाढ़ और लगातार हो रही भारी बारिश के कारण तापी जिले के पंचोल और कुम्भिया गांवों को जोड़ने वाला पुल बह गया। देखिए तस्वीरें

Image

Image

Image

Image

फोटो: भारी वर्षा के कारण नडियाद, खेड़ा जिले के विभिन्न क्षेत्रों में बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई है।

Image

Image

Image

Image