कोरोना : रायपुर में लगातार दूसरे दिन मौत, मिले 129 नए केस

 


रायपुर। प्रदेश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा धीरे-धीरे बढ़ने लगा है। प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 983 पहुंच गई है। प्रदेश में सोमवार को 12581 सैम्पलों की जांच की गई, जिसमें 129 पाजिटिव पाए गए। प्रदेश में पाजिटिविटी दर 1.03 प्रतिशत है। रायपुर में कोरोना संक्रमण के सर्वाधिक 35 केस रिपोर्ट हुए हैं, जबकि एक की मौत हुई है।

राजधानी में लगातार दूसरे दिन कोरोना से मौत हुई है, जिससे स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ गई है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि भीड़भाड़ वाली जगहों पर लोग मास्क लगाकर जाएं तथा शारीरिक दूरी का पालन करें। जिन्होंने अब तक कोरोना से बचाव का बूस्टर डोज नहीं लगावाया है, वह स्वास्थ्य केंद्रों पर जाकर जरूर लगवा लें।

सियान जतन क्लीनिक में अब तक 74 हजार 738 बुजुर्गों का उपचार

छत्तीसगढ़ में संचालनालय आयुष (आयुर्वेद, योग एवं प्राकृतिक चिकित्सा, यूनानी सिद्ध एवं होम्योपैथी) की सभी आयुष संस्थाओं में हर गुरुवार को लगने वाले सियान जतन विशेष ओपीडी में शुक्रवार को प्रदेश भर में 8,591 बुजुर्गों का निश्शुल्क इलाज किया गया।

आयुष विभाग के सहायक संचालक डा. विजय साहू ने बताया कि राज्य के सभी जिलों के शासकीय आयुर्वेद, होम्योपैथी औषधालय, यूनानी औषधालय, जिला आयुर्वेद चिकित्सालय, आयुष पालीक्लीनिक, आयुष विंग, स्पेशलाइज्ड थैरेपी सेंटर, स्पेशियलिटी क्लीनिक तथा सामुदायिक व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में संचालित सह-स्थापित आयुष केंद्रों और आयुर्वेद महाविद्यालय चिकित्सालयों में बुजुर्गों के लिए विशेष ओपीडी का संचालन किया जाता है।

इस दौरान वृद्धावस्था से संबंधित विकारों व व्याधियों के साथ ही विभिन्ना शारीरिक एवं मानसिक रोगों का आयुष के माध्यम से उपचार किया जा रहा है। इन विशेष ओपीडी में बुजुर्गों के लिए सभी तरह की चिकित्सा जांच और इलाज निश्शुल्क प्रदान किया जाता है।

साथ ही मरीजों के स्वास्थ्य की बेहतर देखभाल के लिए काउंसिलिंग भी की जाती है। आयुष विभाग द्वारा प्रत्येक गुरुवार को आयोजित इन सियान जतन क्लीनिकों में मई 2022 से अब तक 74 हजार 738 वृद्ध नागरिकों को निश्शुल्क आयुर्वेद उपचार उपलब्ध कराया जा चुका है।