राहुल को गड्ढे से बाहर लाने में अभी भी 5-6 घंटे का और इंतजार, बचाव कार्य तेज, राहुल ने सुबह लिया है फल

 

रायपुर, जांजगीर चांपा।

असल बात न्यूज़।। 

     00   मौके से लगातार अपडेट

चिंता पूर्ण, तमाम शंकाओं- कुशंकाओं से भरी रात बीत गई है। कल जिस तरह से मौसम बदला है और दिन में तेज धूप के बाद शाम को जगह जगह-जगह बारिश हो गई जोकि कई जगह देर रात तक चलती रही, ऐसे मौसम में लोगों के मन में सबसे पहले यही सवाल उठ रहा है कि मालखरौदा पिपराही में गड्ढे में फंसे, राहुल को इस  इस बदलते मौसम से क्या कोई नुकसान तो नहीं हो जाएगा ? बारिश से वहां गड्ढे में पानी तो नहीं भरने लगेगा ? वहां कैसा मौसम बना हुआ है इसको जानने को लेकर भी उन लोगों में उत्सुकता बनी रही। लोगों में यह जानने को लेकर उत्सुकता दिखी कि क्या वहां भी तेज बारिश हो रही है, ऐसे हालात में वहां बारिश में होने वाले नुकसान से बचाव के लिए क्या उपाय किए गए हैं ?  कहीं ऐसा तो नहीं कि उस बोर में पानी भर जाएगा, जो कि कतिपय असावधानी की वजह से बड़े नुकसान का कारण बन सकता है।और इस तरफ, शासन प्रशासन का ध्यान गया है कि नहीं। लेकिन हमें जो जानकारी है अभी तक जो जानकारियां सामने आ रहे हैं, खुशी की बात है कि राहुल हिल डुल रहा है।  सुबह,उसने फल भी लिया है। ऐसी उम्मीद की जा रही थी कि रात तक राहुल को गड्ढे से बाहर सुरक्षित बाहर निकाल लिया जाएगा।अभी लगभग 60 फिट गढ्ढे से ऊपर चढ़ने के लिए मशक्कत के साथ रैंप जैसा बनाया जा रहा है।ताकि बोरवेल से बाहर निकालने और बोरवेल तक ड्रिलिंग करने टीम पहुच सके।

बचाव टीम के द्वारा लगातार युद्ध स्तर पर किए जा रहे कार्यों के बीच आम लोगों की रात चिंता में बीती है। सबके दिमाग में निश्चित तौर पर राहुल का दहशतजदा  चेहरा बार-बार घूम रहा है। लोग रात में 2:03 बजे तक यह जानने के लिए बार-बार कॉल करते रहे कि राहुल की अभी कैसी स्थिति है ? क्या उसे सुरक्षित निकाल लिया गया है ? अथवा अभी क्या काम चल रहा है ? बचाव कार्य किस  स्टेज पर पहुंचा है ? ऐसे सवालों के बीच हम आपको बता दें कि इस स्थल पर बार-बार बिजली गुल होती जा रही है। जिससे भी बचाव कार्य प्रभावित हुआ है हालांकि अब बिजली लगातार बहाल रखने के लिए जनरेटर की व्यवस्था की गई है।और सबसे अच्छी, सुकून देने वाली खबर है कि बोरवेल में फसे राहुल तक खाने की सामग्रियां पहुचाई जा रही है। केला और सेव दिए गए। अभी अभी राहुल ने सेव खाया है।

कल शाम को जब जगह-जगह बारिश शुरू होने की खबर आने लगी तो लोगों की चिंता है और बढ़ने लगी। यह आशंका गहराने लगी कि कहीं ऐसी बारिश से रेस्क्यू टीम का काम प्रभावित ना होने लगे। अभी भी ड्रिल मशीन से पत्थरों को तोड़ने का काम किया जा रहा है। ताकि रास्ते तैयार हो सके।

मौसम में आंशिक बदलाव हुआ, रेस्कयू का कार्य लगातार जारी रखा गया ।गांव में विद्युत आपूर्ति बाधित हो गई है तो थोड़ी दिक्कत है जरूर बढ़ गए और काम में रुकावट आई लेकिन अब बताया जा रहा है कि बिजली के लिए  जनरेटर की अतिरिक्त व्यवस्था भी की जा रही है ताकि काम में कहीं दिक्कत ना आए।। नेशनल आपदा प्रबंधन की टीम और स्टेट आपदा प्रबंधन की टीम के परिश्रमी, कुशल सदस्य यहां बचाव कार्य में लगातार जुटे हुए हैं। बचाव कार्य जारी रखने के साथ तमाम सावधानियां बरतनी पड़ रही है। ऐसी सावधानी जीवन बचाने के लिए अत्यंत आवश्यक है। जीवन बचाने के लिए, कोई भी खतरा मोल लेने से बचने की कोशिश की जा रही है। बारिश में गड्ढे में पानी भरने की आशंका है जिससे नुकसान हो सकता है। इससे भी बचाव के लिए उपाय किए जा रहे हैं। अच्छी बात यह भी है कि देर रात को बारिश थम गई है जिससे बचाव कार्य को तेज करने में मदद मिली है। इस स्थल पर रात भर गांव के लोगों तथा आसपास के लोगों की भारी भीड़ एकत्रित रही तथा हर कोई बचाव  कार्य में सहयोग करते  नजर आया। सभी यही प्रार्थना कर रहे हैं कि भगवान, राहुल को सुरक्षित गड्ढे से बाहर निकालने में निकालने में मदद करें। कुछ घरों में इसके लिए विधिवत पूजा पाठ भी शुरू कर दिया गया है।

प्रशासन द्वारा सक्रियता के साथ रेस्क्यू किया जा रहा है।

बोरवेल तक सुरंग तैयार करने रिस्क नही लिया जा रहा है।

क्योंकि टेक्निकल एक्सपर्ट के मशविरा के पश्चात पाइप को वेल्डिंग करके सुरंग में सपोर्ट के लिए रखा जाएगा। 

गढ्ढे में ऑक्सीजन सिलेंडर सहित अन्य जरूरी सुविधाएं पहुचाने के साथ ही आगे कोई स्टेप उठाया जाएगा।

बड़ी ड्रिलिंग मशीन कैटरपिलर से पत्थरों को तोड़कर बाहर निकाला जा रहा है।

रेस्कयू में अभी भी 4 से 5 घण्टे लगने की संभावना है

क्योंकि सुरंग बनाने का काम शुरू नही हो सका है

 अन्य व्यवस्था की जा रही है

 गाँव में विद्युत आपूर्ति बहाल हो गई है। हालांकि जनरेटर से लाइट की व्यवस्था घटनास्थल पर बाधित नहीं हुई थी।रेस्क्यू जारी है।

 घटनास्थल पर राहुल के माता पिता और अन्य रिश्तेदार इंतजार में बैठे है..

बोरवेल तक सुरंग बनाने पोकलेन और ड्रिलिंग मशीन से रैम्प तैयार किया जा रहा है

पिहरीद बोरवेल अपडेट

*युद्धस्तर पर जारी है रेस्क्यू कार्य

*रेस्क्यू टीम पूरी रात काम पर लगी रही

 *बोरवेल तक सुरंग बनाने पोकलेन और ड्रिलिंग मशीन से रैम्प तैयार किया जा रहा है।

*राहुल ने रात 3 बजे  फ्रूटी, केला और ओआरएस का घोल लिया है।

*अभी जूस ले रहा है।

 *गुजरात से रोबोटिक्स की टीम पहुंचने वाली है।

*मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल रात भर राहुल की रेस्क्यू की जानकारी लेते रहे हैं।




असल बात न्यूज़

सबसे तेज, सबसे विश्वसनीय  

आप सभी असल बात न्यूज़ के साथ बने रहिए। हम अपने सहयोगी के साथ वहां की प्रत्येक गतिविधियों से आपको लगातार अपडेट करते रहेंगे। 

 पल-पल की खबरों के साथ अपने आसपास की खबरों के लिए हम से जुड़े रहे , यहां एक क्लिक से हमसे जुड़ सकते हैं आप

https://chat.whatsapp.com/KeDmh31JN8oExuONg4QT8E

...............

................................

...............................

असल बात न्यूज़

खबरों की तह तक, सबसे सटीक , सबसे विश्वसनीय

सबसे तेज खबर, सबसे पहले आप तक

मानवीय मूल्यों के लिए समर्पित पत्रकारिता