महिला ने अपने ही 6 बच्चों को कुएं में फेंककर क्यों मारा

 


 रायगढ़. महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में एक हृदय विदारक घटना में घरेलू विवाद के बाद सोमवार को एक मां ने अपने छह नाबालिग बच्चों को कथित तौर पर कुएं में फेंक दिया। पुलिस ने बताया कि मृतक बच्चों में पांच लड़कियां और एक लड़का शामिल हैं। पुलिस ने मामले में कार्रवाई करते हुए मां को बच्चों की हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। 

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि यह हैरान करने वाली घटना मुंबई से करीब 100 किलोमीटर दूर महाड तालुक के खारावली गांव में हुई। उन्होंने बताया कि 30 वर्षीय महिला की उसके पति के परिवार के सदस्यों ने कथित तौर पर पिटाई की थी, जिसके बाद उसने यह कदम उठाया। दरअसल सोमवार शाम को अपने 6 बच्चों के साथ कुएं में कूद गई थी, लेकिन ग्रामीणों ने उसे जिंदा बचा लिया था, जबकि उसके सभी बच्चों की दर्दनाक मौत हो गई।

डेढ़ से 10 साल तक थी बच्चों की उम्र

अधिकारी ने बताया कि मृतक बच्चों की उम्र 18 महीने से 10 साल के बीच थी। रायगढ़ जिले के एसपी अशोक दुधे ने कहा,  'महिला रुना चिखूना के पति को शराब की लत थी और वह उस पर संदेह करता था, जिसके चलते दोनों के बीच अकसर झगड़े होते थे। सोमवार को वह ऐसे ही एक विवाद से परेशान होकर बच्चों के साथ घर से निकली थी। उसने पहले अपने सभी बच्चों को कुएं में फेंक दिया और फिर भी कूद गई। 

जब तक बच्चों को निकाला गया, सब की हो चुकी थी मौत

उसे कुएं में कूदते हुए लोगों ने देख लिया था, जिन्होंने उसे बचा लिया। लेकिन जब तक उसके बच्चों को निकाला जाता, सभी की मौत हो चुकी थी।' परिवार मूल रूप से उत्तर प्रदेश का रहने वाला है और 12 सालों से महाराष्ट्र के रायगढ़ में रहता था। महिला का पति निर्माण कार्यों में मजदूरी करता था। मामले की जांच कर रहे अधिकारी एएसआई मारुति अंधाके ने कहा कि बच्चों की मां को अरेस्ट कर लिया गया है। उसने अब तक इस बारे में कुछ नहीं कहा है। प्रथम दृष्ट्या ऐसा नहीं लगता है कि महिला किसी तरह की मानसिक समस्या से पीड़ित है।