शहीद दिवस के अवसर पर स्वरूपानंद महाविद्यालय में विविध प्रतियोगिताओं का आयोजन

 

भिलाई।

असल बात न्यूज़।।

मां भारती के महान क्रांति दूतों के बलिदान को श्रद्धांजलि देने हेतु महाविद्यालय में अंग्रेजी विभाग द्वारा शहीद दिवस के उपलक्ष में अंतर विभागीय ऑनलाइन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता के आयोजन के मुख्य उद्देश्य पर प्रकाश डालते हुए विभागाध्यक्ष अंग्रेजी श्रीमती संयुक्ता  पाढी ने बताया कि यह न केवल एक प्रतियोगिता है वरन यह एक श्रद्धांजलि है जो मां भारती के सभी महान सपूतों के बलिदान की गाथा को हर पीढ़ी के लिए प्रेरणा स्रोत के रूप में प्रस्तुत करने में सहायक होगा।

 इसी तारतम्य में सीओओ डॉ शर्मा दीपक शर्मा ने बताया कि महाविद्यालय में ऐसे प्रतियोगिताओं के आयोजन से वर्तमान पीढ़ी में स्वतंत्रता सेनानियों को श्रद्धांजलि अर्पित करने की भावना का संचार होगा जिन्होंने अपनी मातृभूमि के लिए अपना सर्वस्व बलिदान कर दिया। कार्यक्रम की सफलता पर प्रकाश डालते हुए प्राचार्य डॉ हंसा शुक्ला ने बताया कि यह स्वतंत्रता अनमोल है और आज की युवा पीढ़ी को इस शहादत का मोल समझना होगा। विद्यार्थियों ने अपनी सक्रिय भागीदारी था तथा क्रियात्मक ता से सभी को गौरवान्वित कर दिया शहीद दिवस के उपलक्ष में पेंटिंग ,गायन ,कविता पाठ प्रतियोगिता का आयोजन किया गया  जिसमें विद्यार्थियों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया  । पेंटिंग प्रतियोगिता में बी,एड.चतुर्थ सेमेस्टर की दीपा साहू ने प्रथम स्थान प्राप्त किया तथा बीएससी द्वितीय वर्ष की सोनिया जसवाल ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया.

वही देशभक्ति की भावना से सराबोर कविता पाठ प्रतियोगिता में बीए द्वितीय वर्ष के पृथ्वी सिंह राजपूत ने प्रथम स्थान प्राप्त किया जिनकी कुछ पंक्तियां इस प्रकार हैं:

" मित्र सुन लो बड़ी शक्ति है, युवा तुम्हारी वाणी में यदि चाहो तो पल भर में ही आग लगा दो पानी में"

तथा बीकॉम द्वितीय वर्ष की आस्था महादिक ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया जिन्होंने कहा :

" भारत माता के लाल थे वे ,

आजादी की थी चाहा बड़ी 

भारत माता की शान मे बस 

चल निकले मुश्किल राह बड़ी "


देश भक्ति गीत की श्रंखला में बीऐ प्रथम वर्ष की छात्रा ईशा गुप्ता ने "ऐ मेरे वतन के लोगों जरा आंख में भर लो पानी " गाया और प्रथम स्थान प्राप्त किया तथा बीए द्वितीय वर्ष की यशस्वी साहू ने "सलाम उन शहीदों को जो खो गए" गाया और द्वितीय स्थान प्राप्त किया। विद्यार्थियों की बढ़-चढ़कर हिस्सेदारी ने इस कार्यक्रम के आयोजन के उद्देश्य को चरितार्थ कर दिया कार्यक्रम में निर्णायक की भूमिका में डॉक्टर हाजरा हुसैन (उप प्राचार्य स्वरूपानंद महाविद्यालय) एवं डॉ सुनीता वर्मा विभागाध्यक्ष हिंदी रही।  विद्यार्थियों ने अपनी सक्रिय भागीदारी था तथा क्रियात्मकता से सभी को गौरवान्वित कर दिया।