सांसद और कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी राजधानी रायपुर पहुंचे, आदिवासी परम्परा और रीति से उनका तिलक लगाकर तथा बाइसन मुकुट पहनकर स्वागत किया गया।

 

सांसद श्री राहुल गांधी  का साइंस कॉलेज मैदान में आयोजित कार्यक्रम में बस्तर डोम में आदिवासी परम्परा और रीति से उनका तिलक लगाकर तथा बाइसन मुकुट पहनकर स्वागत किया गया। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल साथ थे।

रायपुर।

असल बात न्यूज़।। 

सांसद और राष्ट्रीय कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी राजधानी रायपुर पहुंच गए हैं। उन्होंने कई कार्यक्रमों में यहां शिरकत की है। उनकी सभा में शामिल होने पूरे छत्तीसगढ़ प्रदेश से दूर-दूर के स्थानों से लाखों लोग यहां पहुंचे हुए हैं जिसके चलते राजधानी रायपुर में कई जगह जाम की स्थिति बनी हुई है। इस सभा में शामिल होने बीजापुर सुकमा दंतेवाड़ा कोंडागांव कांकेर जसपुर अंबिकापुर सूरजपुर बलरामपुर जैसे इलाकों से भी बड़ी संख्या में लोग यहां पहुंचे हुए हैं।

मख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने सांसद श राहुल गांधी का  स्वामी विवेकानंद अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा माना पहुंचने पर आत्मीय स्वागत किया। 



माना एयरपोर्ट पर राहुल गांधी का स्वागत करने मंत्री मंडल के सभी सदस्य भी उपस्थित थे जिसमें सर्व श्री ताम्रध्वज साहू, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉक्टर प्रेमसाय सिंह टेकाम, डॉ शिव कुमार डेहरिया, जयसिंह अग्रवाल, कवासी लखमा, श्रीमती अनिला भेड़िया, गुरु रूद्र कुमार इत्यादि शामिल थे।

सांसद श्री राहुल गांधी आज एयरपोर्ट से र्साइंस कॉलेज मैदान के कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल और उनके मंत्रिमंडल के सहयोगियों के साथ बस से पहूंचे। एयरपोर्ट से साईंस कॉलेज मैदान तक की यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने सांसद श्री राहुल गांधी को छत्तीसगढ़ सरकार की विभिन्न जनकल्याण योजनाओं की जानकारी दी। सांसद श्री राहुल गांधी ने गोबर खरीदी, गोबर से बिजली बनाने की योजना तथा धान खरीदी व्यवस्था की प्रशंसा की।

सांसद श्री राहुल गांधी ने बस्तर की आराध्य देवी माई दंतेश्वरी और पूज्य आंगा देव की पूजा अर्चना कर प्रदेशवासियों की खुशहाली और समृद्धि की कामना की।

सांसद श्री राहुल गांधी के साईंस कॉलेज स्थित मुख्य कार्यक्रम स्थल में आदिवासी समाज के लोगों से मुलाकात की। समाज के लोगों ने उनका परम्परागत ढं़ग से स्वागत किया। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल उनके साथ थे। 

सांसद श्री राहुल गांधी ने बस्तर डोम में दंतेवाड़ा के डेनेक्स के तहत अप्रिल निर्माण में कार्यरत हारम गांव की महिलायें शांति, प्रीति, संजना,  बारसूर गांव की प्रियंका सहित अन्य महिलाओ-युवाओं से बात की। उन्होंने उनके अनुभव जाने और आगे बढ़ते रहने के लिए प्रोत्साहित किया। नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा जिले में स्थापित इस यूनिट में डेढ़ हजार से अधिक परिवारों को रोजगार मिल रहा है। डेनेक्स से कई कंपनियों ने पांच साल में 75 लाख उत्पाद बनाने के लिए साढ़े चार सौ करोड़ रुपये के MOU किये है ।









*सांसद श्री राहुल गांधी ने सर्व समाज एकता परिषद के प्रतिनिधियों से की मुलाकात*


*दंतेवाड़ा जिले में 12 समाजों को सामाजिक एवं सांस्कृतिक भवन हेतु एक ही स्थान पर आबंटित की गई है 5 एकड़ जमीन* 


*श्री राहुल गांधी ने मुख्यमंत्री की पहल को सराहा: कहा सामाजिक एकता और सद्भाव को बढ़ावा देने वाली एक अनूठी सोच, आज यह देश की जरूरत*

राहुल गांधी ने  राजधानी रायपुर के साइंस कॉलेज मैदान में बस्तर डोम के अवलोकन के दौरान सर्व छत्तीसगढ़िया समाज एकता परिसर  के प्रतिनिधियों से आत्मीय भेंट की। इस अवसर पर प्रतिनिधियों ने धान से निर्मित श्री राहुल गांधी जी का छायाचित्र उन्हें भेंट किया।

गौरतलब है कि समाज के विभिन्न वर्गों के बीच आपसी सद्भाव बढ़ाने और भारतीय संस्कृति की मूल भावना सर्वधर्म, श्रद्धा, समृद्धि के अनुरूप अनूठे सर्व समाज एकता परिसर की कल्पना की गई है। दंतेवाड़ा जिले के निवासी 12 अलग-अलग समाज के लोगों की सामाजिक एवं सांस्कृतिक गतिविधियों हेतु एक विशाल परिसर में भवन हेतु मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने 5 एकड़ भूमि का आवंटन किया। यह कार्य विभिन्न समाजों के लोगों को सामाजिक एवं सांस्कृतिक रूप से एकजुट करेगा। जिला दंतेवाड़ा में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा विभिन्न समाजों के बीच सामाजिक सौहार्द, समरसता और एकता को बढ़ावा देने के लिए यह पहल की गई है। श्री राहुल गांधी ने मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा की गई इस पहल की सराहना करते हुए कहा कि सामाजिक सौहार्द, समरसता और एकता को बढ़ावा देने के लिए यह सराहनीय पहल की गई है। 


सांसद राहुल गांधी निर्धारित समय पर यहां पहुंच गए।  सारा कार्यक्रम समय पर शुरू हो गया। दूर-दूर के स्थानों से लोग यहां कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे जिसके चलते लोगों को यहां पहुंचने में देरी भी हुई। देर से पहुंचने वाले ज्यादातर लोगों को सभा स्थल पर पहुंचने का मौका नहीं मिल सका। ऐसे लोग सड़क पर भटकते भी देखे गए।







 राहुल गांधी ने कोदो, कुटकी और रागी की प्रोसेसिंग यूनिट का किया अवलोकन

सांसद  राहुल गांधी ने  साईंस कॉलेज मैदान में प्रदर्शनी के स्टालों के अवलोकन के दौरान कोदो, कुटकी और रागी की प्रोसेसिंग यूनिट का अवलोकन किया। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने श्री गांधी को बताया कि छत्तीसगढ़ में मिलेट फसलों को बढ़ावा देने के लिए मिलेट मिशन प्रारंभ किया गया है। जिसके तहत इन फसलों के उत्पादक किसानों से कोदो, कुटकी और रागी की समर्थन मूल्य पर खरीदी की जा रही है। साथ ही कोदो, कुटकी और रागी की फसल लेने वाले किसानों को 10 हजार रूपए प्रति एकड़ इनपुट सब्सिडी राजीव गांधी किसान न्याय योजना के अंतर्गत देने का प्रावधान किया गया है। खरीदी जाने वाली मिलेट का उपयोग कुपोषण दूर करने के लिए मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम आंगनबाड़ी के पोषण आहार कार्यक्रम में किया जाएगा। उन्होंने यह भी बताया कि मिलेट्स का उत्पादन करने वाले गांवों में छोटी प्रसंस्करण इकाईयां और पैकेजिंग इकाईयां स्थापित की जा रही है। विशेषज्ञों द्वारा मिलेट उत्पादन के लिए तकनीकी मार्गदर्शन के साथ-साथ अच्छे बीज भी उपलब्ध कराने की व्यवस्था की गई है। इसके लिए इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मिलेट रिसर्च हैदराबाद और प्रदेश के मिलेट उत्पादक 14 जिलों के मध्य एमओयू किया गया है। सासंद श्री राहुल गांधी ने छत्तीसगढ़ के मिलेट मिशन की सराहना की।