महिला कांग्रेस का केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन, संसद में सांसदों के साथ दुर्व्यवहार और मारपीट तथा लगातार बढ़ती जा रे महंगाई के विरोध में जिला कांग्रेस कमेटी के द्वारा किया गया जोरदार प्रदर्शन तथा पुतला दहन

 दुर्ग भिलाई। असल बात न्यूज़।

कांग्रेस का,  केंद्र की भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार के खिलाफ, छत्तीसगढ़ में हमला लगातार तेज होता जा रहा है। केंद्र सरकार के खिलाफ विभिन्न मुद्दों को लेकर कांग्रेस लगातार हमलावर होते जा रही है और आंदोलन प्रदर्शन कर रही है। संसद में सांसदों के साथ दुर्व्यवहार और मारपीट तथा लगातार बढ़ती जा रही महंगाई के विरोध में यहां आज जिला महिला कांग्रेस कमेटी के द्वारा जोरदार प्रदर्शन किया गया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला दहन किया गया।इस दौरान केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई तथा न्याय दमन नहीं करने करने की मांग की गई।

महिला कांग्रेस कमेटी के द्वारा यह प्रदर्शन, नगर घड़ी चौक के समीप किया गया। प्रदर्शन धरना में पूरे जिले से वरिष्ठ कांग्रेस कार्यकर्ता और महिला कांग्रेस की बड़ी संख्या में कार्यकर्ता शामिल हुई। इस दौरान वक्ताओं ने अपने उद्बोधन में केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर आरोप लगाए। कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की तथा संसद में सांसदों के साथ दुर्व्यवहार और मारपीट के विरोध में जमकर नारे लगाए गए। वक्ताओं ने अपने उद्बोधन में कहा कि संसद में जनता के द्वारा चुने गए प्रतिनिधियों सांसदों के साथ दुर्व्यवहार और मारपीट कर लोकतंत्र की हत्या करने की कोशिश की गई है। छत्तीसगढ़ के राज्यसभा सांसद फूलों देवी नेताम के साथ भी मारपीट की गई। वह अपनी बातें रख रही थी तो उन्हें चोट पहुंचाया गया। ऐसे अन्याय और अत्याचार को देश में कोई बर्दाश्त नहीं करेगा।इस दौरान नारी शक्ति जिंदाबाद,सांसद फूलों देवी नेताम जिंदाबाद के भी जोर-शोर से नारे लगाए गए।

धरना प्रदर्शन में बोलते हुए कांग्रेस नेता धर्मेंद्र यादव ने कहा कि यह कितना शर्मनाक है कि आम जनता के द्वारा चुने गए जनप्रतिनिधियों को संसद में बोलने से रोका जा रहा है। लोकतंत्र को कुचलने की कोशिश की जा रही है। सांसद, संसद में अपनी बात नहीं रख सकेंगे, आम लोगों की समस्याएं सरकार तक पहुंचाए कैसे जा सकेगी। इससे रोका जा रहा है। भारत देश में यह सब नहीं चलने वाला है।

जिला महिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्रीमती सुभद्रा सिंह ने अपने उद्बोधन में कहा कि संसद में नारी शक्ति का अपमान हुआ है। महिला सांसदों को अपनी बात रखने से रोका गया। भारत देश के इतिहास में ऐसा संभवत पहली बार हुआ है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में किसी की आवाज दवाई नहीं आ सकती। सही को सही कहने से नहीं रोका जा सकता।

धरना प्रदर्शन में सर्वश्री पूर्व विधायक भजन सिंह निरंकारी, वाईके सिंह, श्रीमती ईश्वरी बदानी, नीलू लिमेंश, सरिता परगनिहिया, सरला सर्राफ, भिलाई जिला महिला कांग्रेस की ब्लॉक 6 की अध्यक्ष श्रीमती चतुर्वेदी, sanjana Verma, युवा कांग्रेस के अंकुश पिल्ले, दीपक साहू, एल्डरमैन दिनेश यादव, खुर्सीपार ब्लॉक कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष बी काम राजू यदि सैकड़ों संख्या में Congress कार्यकर्ता शामिल थे।