बृजमोहन अग्रवाल ने उठाया छत्तीसगढ़ में धर्मांतरण, बांग्लादेशी घुसपैठियों व रोहिग्या का मामला

 


 धर्मांतरण पर पत्र लिखने वाले एसपी को डराया धमकाया जा रहा है


रायपुर  । असल बात न्यूज।

 भाजपा विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने  विधानसभा में आज शून्य काल में  छत्तीसगढ़ में व्यापक पैमाने पर हो रहे धर्मांतरण व बांग्लादेशी घुसपैठियों व रोहिंग्या को बसाने का मामला उठाते हुए कहा कि उन्होंने व उनके दल के द्वारा इस मामले पर स्थगन प्रस्ताव की सूचना दी गई है। अतः सदन की कार्यवाही रोक कर महत्वपूर्ण विषय पर चर्चा कराई जाए।


श्री अग्रवाल ने मामला उठाते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ में धर्मांतरण, बांग्लादेशी घुसपैठिए, रोहिंग्या को बसाने के कारण पूरे प्रदेश की अर्थव्यवस्था बिगड़ रही है।  इतना ही नहीं कानून व्यवस्था की स्थिति भी बढ़ रही है। बस्तर क्षेत्र के सुकमा जिले के पुलिस अधीक्षक ने अपने सभी सबोर्डिनेट को पत्र लिखकर कहा कि बस्तर के सुकमा जिले में धर्मांतरण की गतिविधियों के कारण अव्यवस्था फैल रही है। कानून व्यवस्था की स्थिति पैदा हो सकती है। इसके बारे में सभी अधिकारियों को सजग रहना चाहिए और इसके ऊपर में इंटेलिजेंट के माध्यम से पूरी जानकारी प्राप्त करना चाहिए।


श्री अग्रवाल ने कहा कि हमारे वनवासी और आदिवासी का धर्मांतरण करवा कर उनकी संस्कृति को समाप्त करने का काम सरकार के संरक्षण में हो रहा है। नया रायपुर में 19 बच्चों को पकड़ा गया इन 19 बच्चों को अवैध रूप से मध्यप्रदेश से लाकर धर्मांतरण के लिए रखा गया। रायगढ़ जिले के ग्राम पंचायत जामबहर  में  14 परिवारों के जो अनुसूचित जनजाति के लोग हैं उनको लालच देकर उनका धर्मांतरण मतांतरण करवाने की कोशिश की गई। नई राजधानी मैं एक राजपत्रित अधिकारी के घर में यह मतांतरण का अवैध काम चल रहा था।


श्री अग्रवाल ने कहा कि छत्तीसगढ़ में 1,000 से  ज्यादा प्रकरण शिकायतें थानों में पड़ी है किसी के ऊपर  कहीं पर भी एफ आई आर दर्ज नहीं की गई है। सरकार के संरक्षण में धर्मांतरण हो रहा है। सरकार के संरक्षण में मेरी विधानसभा क्षेत्र में ढाई साल में 5,000 से ज्यादा बांग्लादेशी घुसपैठिए रोहिंग्या आकर उनका प्रमाण पत्र बन रहा है। उनके शपथ पत्र बन रहे हैं। उनको मकान उपलब्ध कराया जा रहा है और यह बहुत अव्यवस्था की स्थिति है, क्योंकि जहां जहां धर्मांतरण होता है वहां-वहां   राष्ट्रांतरण हो जाता है।


श्री अग्रवाल ने कहा कि सुकमा के एसपी के पत्र लिखने के बाद सुकमा के एसपी को डराया धमकाया जा रहा है। अगर हमारे प्रशासनिक अधिकारियों को इस प्रकार के काम करने से रोका जाएगा तो हमारी छत्तीसगढ़ की जनजाति संस्कृति समाप्त हो जाएगी अब तो इतना ही नहीं राजनांदगांव जिले में 7 अपराधियों को पकड़ा गया और वह अपराधी बांग्लादेशी पाए गए। दुर्ग जिले के भिलाई चरोदा नगर निगम के देवबलोदा में जुलाई माह में 5 परिवारों के 20 सदस्यों का मतांतरण करवाया गया है।


श्री बृजमोहन अग्रवाल, डॉ रमन सिंह, धरमलाल कौशिक, अजय चंद्राकर, शिवरतन शर्मा सहित भाजपा विधायकों ने इस मामले पर सदन में स्थगन प्रस्ताव के माध्यम से चर्चा कराने की मांग की।