दुर्ग जिले में corona संक्रमितो की संख्या और बढ़ गई, रोकथाम के सारे उपाय नाकाफी साबित हो रहे

छत्तीसगढ़ प्रदेश में कोरोना के संक्रमण से आज छह लोगों की मौत हो गई है। दुर्ग जिले में तीन संक्रमितो की जान चली गई है। इसमें खुर्सीपार भिलाई का एक 44 युवक भी शामिल जो कॉविड positive था और उसे ब्रेथलेसनेस बुखार की शिकायत थी। पूरे छत्तीसगढ़ में कोरोना के संक्रमण से मरने वाले की संख्या बढ़कर 3915 हो गई है। आज कुल 37 हजार378 लोगों की टेस्टिंग की गई जिसमें 887 नए संक्रमित मिले हैं। एक्टिव केसेस की संख्या दुर्ग जिले में 1485 और रायपुर जिले में 1 हजार 536 हो गई है। संक्रमितो के उपचार के लिए राज्य सरकार के द्वारा नई व्यवस्था भी की जा रही हैं, इसमें निजी अस्पतालों को सहयोग भी शामिल है


रायपुर, दुर्ग। असल बात न्यूज़।

दुर्ग जिले में प्रत्येक दिन नए संक्रमितो के बढ़ने का जो सिलसिला शुरू हुआ है वह थम नहीं रहा है। पिछले 1 सप्ताह से हर दिन कोरोना के संक्रमितो की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। पूरे  छत्तीसगढ़ राज्य में corona  एक बार फिर बेकाबू होने की ओर बढ़ता नजर आ रहा है।राजधानी रायपुर में भी कोरोना के नए संक्रमण के मामले में विस्फोटक वृद्धि नजर आ रही  है।अभी जो आंकड़े सामने आ रहे हैं उससे पता चल रहा है कि प्रत्येक वर्ग के लोग संक्रमित हो रहे हैं उसमें शासकीय कर्मचारी, मजदूर, व्यवसायी सभी वर्ग के लोग शामिल हैं। एक तरफ corona के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं तो वही लोगों के सामने जिंदगी के साथ अपनी आजीविका, कारोबार  को भी निरंतर संचालित रखने की चुनौती है। ऐसे हालातों से जूझते हुए लोगों की चिंताएं लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इधर सरकार ने कोविड 19 के बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए उसके उपचार के लिए निजी अस्पतालों की अनुमति दे दी है।

देश के कुछ राज्यों के साथ छत्तीसगढ़ राज्य , उन राज्यों में  लगातार बना हुआ है जहां कोविड-19 के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इनमें भी यहां के कुछ जिले ऐसे हो गए हैं जहां कोरोना की रफ्तार काफी तेज हो गई है। यहां प्रतिदिन बड़ी संख्या में नेशन कभी तो मिल ही रहे हैं संक्रमण की चपेट में आकर लोगों की जान भी जा रही है। अभी शहरी इलाकों में अपेक्षाकृत अधिक संक्रमित मिल रहे हैं, ग्रामीण इलाकों में हालात कुछ ठीक  नजर आ रहे हैं। छत्तीसगढ़ में देखा जाए तो राजधानी रायपुर और दुर्ग जिले में स्थिति नाजुक होती जा रही है।

दुर्ग जिले में पिछले 24 घंटों के दौरान आज 240 में संक्रमित मिले हैं। 10 मार्च के बाद से 24 घंटे के भीतर मिलने वाले संक्रमितो की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है।

यह खबर सुकून देने वाली  है कि दुर्ग जिले के ग्रामीण इलाकों में में अभी कोरोना के संक्रमित  नहीं मिल रहे हैं। ग्रामीण इलाका corona के संक्रमण की पहुंच से दूर है। अब चुनौती इस यथास्थिति को बनाए रखने की है। दूसरी तरफ यहां के शहरी इलाकों में संक्रमितो की संख्या में लगातार चिंताजनक तरीके से वृद्धि होती जा रही है। 1 दिन में 24 घंटे के भीतर ढाई सौ के आसपास संक्रमित मिलने लगे हैं जिससे कोविड-19 के संक्रमण के फैलाव को नियंत्रित करने रोकथाम के उपाय को और सख्त करने की जरूरत महसूस होने लगी है।

दुर्ग जिले के शहरी इलाकों में कुछ क्षेत्र ऐसे बन गए हैं जहां प्रतिदिन कोरोना के नए संक्रमित मिल रहे हैं। शहर का केलाबाड़ी और हुडको क्षेत्र ऐसा ही बन गया है। केलाबाड़ी में पिछले 24 घंटों में 10 नए संक्रमित मिले हैं। यह भी चिंताजनक बात है कि भिलाई की टाउनशिप के सेक्टरों और कॉलोनियों में भी नए संक्रमित रोज मिल रहे हैं। नई विकसित कॉलोनियों की बात की जाए तो ऋषभ कॉलोनी दुर्ग शहर और चौहान टाउन भिलाई में नए संक्रमित लगातार मिल रहे हैं। भिलाई टाउनशिप में सेक्टर 1 सेक्टर 2 सेक्टर 7 सेक्टर 8 सेक्टर 9 सेक्टर 10 ,हुडको में नए संक्रमित बड़ी संख्या में मिल रहे हैं।

दुर्ग शहर में केलाबाड़ी, पदमनाभपुर, बोरसी, ऋषभ सिटी, बैजनाथ पारा कादंबरी नगर, दीपक नगर, कातुल बोर्ड, शंकर नगर इत्यादि क्षेत्रों  में संक्रमित मिले हैं। माना जा रहा है कि भीड़ को रोकने कदम नहीं उठाए गए तो कोरोना के फैलाव को रोक पाने में दिक्कत बनी रहेगी।


इन  निजी अस्पतालों को कोविड संक्रमित मरीजों के इलाज की अनुमति दी गई

कोविड-19संक्रमित मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए बीएम शाह हॉस्पिटल एंड मेडिकल रिसर्च सेंटर शास्त्री नगर सुपेला, मित्तल हॉस्पिटल भिलाई, एस.आर. हॉस्पिटल चीखली जुनवानी दुर्ग और आई.एम.आई हॉस्पिटल खुर्सीपार को कोविड संक्रमित मरीजों के इलाज की अनुमति दी गई है। अस्पताल के अन्य सभी सेवाएं यथावत जारी रहेंगे।