Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

अप्रैल 2024 में भारत देश की कुल प्राप्तियां 2लाख13 हजार 34 करोड रु, यह साल भर के वित्तीय अनुमान का 6.9% प्राप्त हुई

नई दिल्ली. असल बात न्यूज़.   देश में लोकसभा चुनाव हो रहा है. इस चुनाव के लिए कल अंतिम चरण में मतदान की पूरी प्रक्रिया संपन्न हो जाएगी. चुनाव...

Also Read



नई दिल्ली.

असल बात न्यूज़.  

देश में लोकसभा चुनाव हो रहा है. इस चुनाव के लिए कल अंतिम चरण में मतदान की पूरी प्रक्रिया संपन्न हो जाएगी. चुनाव प्रचार की बातें अलग है. जमकर आरोप प्रत्यारोप हो रहा है लेकिन अधिकृत तौर पर यह जानकारी सामने आई है कि वर्ष 2024 के पिछले अप्रैल महीने में देश के विभिन्न मदों में प्राप्तियां बढ़ी हैं. देश को इस अवधि के दौरान 2लाख13 हजार 34 करोड रुपए की प्राप्तियां हुई है. देश का वित्तीय वर्ष 2024 25 के लिए जो वित्तीय अनुमान है उसके साल भर की प्राप्तियों की तुलना में यह प्राप्तियां लगभग 6.9% हैं. एक और बड़ी बात है कि भारत सरकार के द्वारा इस महीने में करों से प्राप्त हुई राशियों के हिस्से के रूप में राज्य सरकारों को 69 हजार 875 रु हस्तांतरित किया गया है.

भारत सरकार के खातों की समीक्षा की गई है. और इसमें जो ताजा जानकारियां सामने आई है उससे देश के नागरिकों को खुशी हो सकती है. यह वित्तीय समीक्षा अभी वित्त वर्ष 2024 25 के अप्रैल महीने के लिए की गई है. 

भारत सरकार के मासिक खाते की समीक्षा में जो बातें सामने आई हैं उसके अनुसार  भारत सरकार को अप्रैल 2024 महीने मे 2 लाख 13 हजार 34 करोड रुपए की प्राप्तियां हुई है. यह राशि जो इस साल के वर्ष 2024 25 के लिए देश के बजट का अनुमान है उसका 6.9% है.इसमें केंद्र सरकार को 1लाख 84हजार 998 करोड रुपए का शुद्ध  राजस्व प्राप्त हुआ है. वही जो कुल प्राप्तियां हुई हैं उसमें 27,295 करोड़ रुपये गैर-कर राजस्व और 1,041 करोड़ रुपये गैर-ऋण पूंजी प्राप्तियां शामिल हैं, गैर ऋण पूंजी प्राप्तियां  ऋणों की वसूली के परिणामस्वरूप प्राप्त हुई हैं।

  इस अवधि तक भारत सरकार द्वारा करों के हिस्से के हस्तांतरण के रूप में राज्य सरकारों को 69,875 करोड़ रुपये हस्तांतरित किए गए हैं, जो पिछले वर्ष की तुलना में 10,735 करोड़ रुपये अधिक है। 

भारत सरकार द्वारा किया गया कुल व्यय 4,23,470 करोड़ रुपये (संबंधित बजट अनुमान 2024-25 का 8.9 प्रतिशत) है, जिसमें से 3,24,235 करोड़ रुपये राजस्व खाते पर और 99,235 करोड़ रुपये पूंजी खाते पर है। कुल राजस्व व्यय में से 1,28,263 करोड़ रुपये ब्याज भुगतान के कारण और 19 हजार 407 करोड रुपए सब्सिडी के परिणाम स्वरूप प्राप्त हुए हैं.