Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

नशे के खिलाफ, वकील और पुलिस हुए साथ,परिवार एवं समाज के लिए घातक है नशा - अब्दुल जाहिद कुरैशी (DJ)

   *नशे के विरुद्ध पुलिस का *निजात* *अभियान पहुंचा अधिवक्ताओं के बीच  *निजात कार्यक्रम में शामिल हुए जिला न्यायाधीश, न्यायाधीशगण, एसएसपी सहि...

Also Read

 


 *नशे के विरुद्ध पुलिस का *निजात* *अभियान पहुंचा अधिवक्ताओं के बीच

 *निजात कार्यक्रम में शामिल हुए जिला न्यायाधीश, न्यायाधीशगण, एसएसपी सहित सैकड़ो अधिवक्ता

*नशा मुक्त अभियान में वकील निभाएँगे महती भूमिका - हितेंद्र 


रायपुर  .

असल बात न्यूज़.        

जिला अधिवक्ता संघ रायपुर के द्वारा  नशे के विरुद्ध चलाए जा रहे पुलिस के *निजात* *कार्यक्रम* "नशे को ना, जिंदगी को हां"  का कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें  जिला न्यायाधीश, न्यायाधीशगण, एसएसपी सहित सैकड़ो अधिवक्तागणों की उपस्थिति रही। निजात कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री अब्दुल जाहिद कुरैशी,  कार्यक्रम की अध्यक्षता वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री संतोष कुमार सिंह,  विशिष्ट अतिथि प्रधान न्यायाधीश कुटुंब न्यायालय श्री हेमंत सराफ ने किया।  कार्यक्रम को संबोधित करते हुए  जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री अब्दुल जाहिद कुरैशी ने कहा नशे के खिलाफ सिर्फ पुलिस को पुलिस ही नहीं बल्कि  हर वर्ग को समाने आकर एकजुट होना चाहिए.उन्होंने कहा परिवार और समाज के लिए सबसे ज्यादा अगर कोई घातक है तो वह नशा है, 

उन्होंने नशे के बढ़ते प्रभाव पर प्रकाश डालते हुए कहा न्यायालय में भी नशे से संबंधित प्रकरणों  की भरमार हो गई, एनडीपीएस की केस बढ़ रही है, उन्होंने कहा  नशा करने से सिर्फ एक व्यक्ति प्रभावित नहीं होता बल्कि उससे जुड़े हर लोग होते हैं चाहे वह उसका परिवार हो या समाज हो।  

कार्यक्रम के आयोजन के लिए डीजे श्री कुरैशी, ने अधिवक्ता संघ को बधाई दी । कार्यक्रम को संबोधित करते हुए *वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री संतोष कुमार सिंह* ने कहा कि नशे के विरुद्ध पुलिस के द्वारा एक युद्ध छेड़ा गया है अधिवक्ता ,  समाज का एक महत्वपूर्ण व्यक्ति होता है,  एक एक अधिवक्ता से सैकड़ो लोग जुड़े होते हैं, अधिवक्ताओं के माध्यम से नशे के खिलाफ हम लोगों को एक संदेश देकर समाज को नशा मुक्त कर सकते हैं इसीलिए आज अधिवक्ता संघ के द्वारा यह आयोजन किया गया जिसके लिए अधिवक्ता संघ बधाई के पात्र है । वही कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कुटुंब न्यायालय के प्रधान न्यायाधीश श्री हेमंत सराफ ने नशा  से होने वाले नुकसान को बताते हुए कहा कि समाज को नशा मुक्त करने के लिए चाणक्य सूत्र के अनुसार कार्य करना होगा नशा की डाल  और पत्तों को तोड़ने की बजाय इसे जड़ से खत्म करना जरूरी है तब जाकर के हमारा समाज नशा मुक्त होगा। जिस तरह एक कॉलोनी के बाहर मैदान होने से बहुत खिलाड़ी पैदा होते हैं उसी प्रकार एक शराब दुकान से कई शराबी पैदा हो जाते हैं इसलिए नशे के खिलाफ या अभियान जारी रखना चाहिए।


 कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला अधिवक्ता संघ रायपुर के अध्यक्ष हितेंद्र तिवारी ने कहा नशे के खिलाफ वकील और  पुलिस हम साथ साथ है, पुलिस के द्वारा चलाए जा  रहे यह अभियान समाज के लिए अत्यंत आवश्यक है। नशा के विरुद्ध इस युद्ध में अधिवक्ता भी शामिल होंगे और समाज को नशा मुक्त करने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।


 कार्यक्रम में प्रमुख रूप से जिला एवं सत्र न्यायधीश श्री अब्दुल जाहिद कुरैशी, प्रधान न्यायाधीश कुटुंब न्यायालय श्री हेमंत सराफ, एसएसपी श्री संतोष कुमार सिंह, जिला अधिवक्ता संघ रायपुर के अध्यक्ष हितेंद्र तिवारी, उपाध्यक्ष श्री किशोर ताम्रकार, सचिव अरुण मिश्रा, महिला उपाध्यक्ष रितु बुंदेला, सह सचिव गायत्री साहू, क्रीड़ा सचिव परसराम कश्यप, सह सचिव अपूर्व सेन, कार्यकारिणी अंकित फुलझले, सागर पांडे, अजय बालानी, शिवशंकर महिलांग, राजीव कुमार द्विवेदी, नवरतन प्रसाद यादव, श्रीमती सावित्री नायक सहित सैकड़ों अधिवक्ता गण और न्यायाधीश गण उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन अधिवक्ता संघ के सचिव अरुण मिश्रा ने किया आभार प्रदर्शन अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री लखन पटले ने किया।