Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

चुनाव हेतु अच्छी तैयारी हो तो आगे दिक्कते नहीं आएगी-संभागायुक्त श्री राठौर - एमसीसी का गंभीरतापूर्वक पालन हो,चुनाव कार्य को नये चैलेंज के रूप में स्वीकार करें अधिकारी - आईजी श्री गर्ग,निष्पक्ष रहे और कार्य में निष्पक्षता झलकना चाहिए - कलेक्टर सुश्री चौधरी - शांतिपूर्ण चुनाव संपन्न कराना पुलिस प्रशासन का उद्देश्य - एसपी श्री शुक्ला

दुर्ग   मतदाता जागरूकता के लिए स्वीप कार्यक्रम पर दिया जाए जोर -नगर के चौक-चाराहें पर होर्डिंग्स के माध्यम से चुनाव श्लोगनों का हो प्रचार, ज...

Also Read

दुर्ग


 

मतदाता जागरूकता के लिए स्वीप कार्यक्रम पर दिया जाए जोर

-नगर के चौक-चाराहें पर होर्डिंग्स के माध्यम से चुनाव श्लोगनों का हो प्रचार,

जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन के अधिकारियों की संयुक्त बैठक संपन्न

       दुर्ग, / संभाग आयुक्त श्री एस.एन. राठौर ने कहा है कि चुनाव हेतु अच्छी तैयारी हो तो आगे कार्य में दिक्कते नहीं आएगी। प्रशासनिक तैयारियों के साथ ही जिले में निर्वाचन का माहौल दिखना चाहिए। शांतिपूर्ण चुनाव संपन्न कराने में संभाग आयुक्त के नाते हर संभव प्रशासनिक सहयोग उपलब्ध करायी जाएगी। संभाग आयुक्त श्री राठौर आज कला मंदिर भिलाई में लोकसभा निर्वाचन-2024 के सिलसिले में जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन के अधिकारियों की संयुक्त बैठक को संबोधित कर रहे थे। संभाग आयुक्त श्री राठौर अधिकारियों की संयुक्त बैठक में एफएसटी, एसएसटी एवं सी-विजिल एप्लीकेशन में ऑनबोर्डिंग तथा केन्द्रीय एवं राज्य प्रवर्तन एजेंसियों द्वारा ईएसएनएस की अब तक कार्यवाही, जिला स्तरीय नोडल अधिकारियों की तैयारी एवं चुनाव के दौरान कानून व्यवस्था की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि आदर्श आचरण संहिता का गंभीरतापूर्वक पालन कराना सुनिश्चित करें अधिकारी। चुनाव संबंधित शिकायतों पर तत्काल कार्यवाही किया जाए। जिले में मतदाता जागरूकता के लिए स्वीप कार्यक्रम जन सहभागिता के साथ चलायी जाए। सी-विजिल एप का प्रचार-प्रसार होना चाहिए। सी-विजिल एप नागरिकों के लिए निर्वाचन के दौरान आदर्श आचार संहिता और व्यय संबंधी उल्लंघनों की रिपोर्ट करने के लिए एक नवोन्मेषी मोबाईल ऐप्लीकेशन है। सी-विजिल स्वतंत्र और निष्पक्ष निर्वाचनों के संचालन में नागरिकों द्वारा निभाई जा सकने वाली सक्रिय और जिम्मेदार भूमिका पर जोर देती है। उन्होंने कहा कि एक अप्रैल 2024 की तिथि के आधार पर मतदाता सूची में नया वोटर्स की नाम जोड़ी जाए। नया वोटर्स को प्रेरित करने स्कूल एवं महाविद्यालयों के पास ’’मेरा पहला वोट देश के लिए’’ श्लोगन संबंधित होर्डिंग्स लगायी जाए। संभाग आयुक्त श्री राठौर ने कहा कि मतदान केन्द्र में वोटर्स को पूरी सुविधाएं मिलना चाहिए। बुथ में वाटर कन्टेनर, छाया, सिनियर सिटीजन के लिए बैठने की व्यवस्था हो, लॉ-आर्डर की स्थिति में बांड ओवर प्रकरण लंबित न हो। चुनाव के दौरान कानून व्यवस्था बनाये रखने का काम स्मूथली चलना चाहिए ताकि मतदाता निर्भिक होकर निष्पक्ष रूप से चुनाव प्रक्रिया में भाग ले सकते हैं। उन्होंने कहा कि जिन अधिकारी-कर्मचारियों की चुनाव ड्यूटी लगी है वे मतदान से वंचित न हो, उनके लिए पोस्टल बैलेट की समुचित प्रबंध किया जाए। संभाग आयुक्त ने बेहतर तैयारी के साथ चुनाव कार्य संपन्न कराने के लिए अधिकारियों को अग्रिम शुभकामनाएं दी। आई.जी. श्री आर.जी. गर्ग ने कहा कि चुनाव कार्य को नये चैलेंज के रूप में स्वीकार करें अधिकारी। सेक्टर अधिकारी अपनी टीम के साथ संबंधित थाना प्रभारी से रू-ब-रू चर्चा कर स्थिति का जायजा लेवें। मतदान दिवस 100 मीटर की दायरे वाले प्रतिबंधित क्षेत्र व भीड़ पर विशेष नजर रखें। पुलिस एवं राजस्व अधिकारी संबंधित क्षेत्र में शांतिपूर्ण चुनाव के लिए अपनी सूचनातंत्र को मजबूत रखें। आई.जी. श्री गर्ग ने कहा कि एफ.एस.टी./एस.एस.टी. टीम के अधिकारियों की शिकायतें नहीं आनी चाहिए। पुलिस अधिकारी चुनाव पूर्व प्रारंभिक कार्यवाहियों पर विशेष ध्यान देवें। 

कलेक्टर सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी ने कहा कि अधिकारी निष्पक्ष रहे और कार्य में निष्पक्षता झलकना चाहिए। उन्होंने अधिकारियों को रूटचार्ट के आधार पर क्षेत्र भ्रमण कर वस्तुस्थिति से वाकिफ होने कहा। मतदाताओं को प्रलोभन देने की शिकायतें न हो। वाहन चेकिंग के अलावा सामग्री आदि बंटने की सूचना की जानकारी अधिकारी को होना चाहिए। सेक्टर अधिकारियों को सेकण्ड चरण चुनाव संपन्न होने वाले जिले की सीमाओं पर भी विशेष ध्यान देना होगा। मतदान केन्द्रों में मतदान संबंधित जानकारी उल्लेखित हो व रैम्प, व्हील, चेयर, छाया व पेयजल का समुचित प्रबंध हो। अधिकारी चुनाव बहिष्कार जैसे मुद्दो पर भी नजर रखें। कलेक्टर ने कहा कि जिले में तृतीय चरण में चुनाव संपन्न होना है। अधिकारी निष्पक्ष भाव से सावधानीपूर्वक चुनाव कार्य प्रारंभ करें। कलेक्टर ने संभाग आयुक्त को जिले में चुनाव की तैयारियों और अधिकारियों को सौंपे गये दायित्वों से अवगत कराया। उन्होंने बताया कि निर्वाचन आयोग द्वारा मतदान केन्द्रों में छाया की व्यवस्था हेतु 5 हजार रूपए एवं पेयजल व्यवस्था हेतु 15 सौ रूपए की स्वीकृति दी गई है। इसके तहत नगरीय निकायों एवं पंचायतों के मतदान केन्द्रों में आवश्यक प्रबंध की जाएगी। कलेक्टर ने सेक्टर अधिकारियों से संवेदनशील क्षेत्र में जहां मतदान के दौरान विवाद की स्थिति के संबंध में प्रस्तुत रिपोर्ट की जानकारी ली। उन्होंने संभाग आयुक्त को आश्वस्त किया कि उनके निर्देशों का गंभीरतापूर्वक पालन करते हुए जिले में शांतिपूर्ण चुनाव संपन्न कराने में अधिकारी अपनी अहम भूमिका निभाएंगे।   

पुलिस अधीक्षक श्री जितेन्द्र शुक्ला ने कहा कि शांतिपूर्ण चुनाव संपन्न कराना पुलिस प्रशासन का उद्देश्य होता है। लोकतंत्र में चुनाव एक ऐसा महापर्व है, जिसमें सभी को अपनी सहभागिता के लिए बाहर निकलना पड़ता है। उन्होंने कहा कि निष्पक्ष चुनाव के लिए पुलिस प्रशासन का पूरा सहयोग मिलेगा ताकि मतदाता निर्भय होकर अपनी मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। एसपी श्री शुक्ला ने कहा कि निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों पर निष्पक्षता जरूरी है। सभी अधिकारी एक टीम के रूप में अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करते हुए चुनाव संपन्न कराएंगे। इस अवसर पर ए.डी.एम. श्री अरविंद एक्का, जिला पंचायत के सीईओ श्री अश्वनी देवांगन, अपर कलेक्टर श्रीमती योगिता देवांगन, उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री बी.के. दुबे, ए.एस.पी. श्री सुखनंदन राठौर और श्री अभिषेक झा तथा सभी सेक्टर अधिकारी, चुनाव कार्य हेतु नियुक्त सभी नोडल अधिकारी सहित जिला एवं पुलिस प्रशासन के अधिकारी उपस्थित थे।