Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

स्वरूपानंद महाविद्यालय में विश्व पृथ्वी दिवस: धरती बचाओ, जीवन बचाओ

  भिलाई. असल बात न्यूज़.    एनसीसी और एनएसएस के संयुक्त तत्वावधान में स्वरूपानंद महाविद्यालय में विश्व पृथ्वी दिवस धूमधाम से मनाया गया।  वर्ष...

Also Read

 


भिलाई.

असल बात न्यूज़.   

एनसीसी और एनएसएस के संयुक्त तत्वावधान में स्वरूपानंद महाविद्यालय में विश्व पृथ्वी दिवस धूमधाम से मनाया गया।  वर्ष 2024, विश्व पृथ्वी दिवस का थीम "प्लैनेट वर्सेस पॉलिथिन" है।

कार्यक्रम का शुभारंभ श्रीमती संयुक्ता पाढ़ी के स्वागत भाषण से हुआ। उन्होंने कहा कि पृथ्वी दिवस मनाना केवल एक औपचारिकता नहीं है, बल्कि यह पृथ्वी और पर्यावरण के प्रति हमारी  को समझने का अवसर है। उन्होंने कहा कि पर्यावरण का संरक्षण करना ही अपने जीवन का संरक्षण करना है।

महाविद्यालय प्राचार्य डॉ. हंसा शुक्ला ने कहा कि वर्तमान युवा पीढ़ी को पर्यावरण के प्रति जागरूक होना होगा। उन्होंने कहा कि प्लास्टिक प्रदूषण एक गंभीर समस्या है, जिससे निपटने के लिए हमें मिलकर प्रयास करने होंगे। उन्होंने छात्रों से आग्रह किया कि वे पर्यावरण को बचाने के लिए छोटे-छोटे कदम उठाएं, जैसे कि पानी और बिजली की बचत, प्लास्टिक का कम इस्तेमाल, और पेड़ लगाना क्योंकि पर्यावरण बचाना, मानवता की पहचान है l


परिचर्चा में  विवेक कुमार शर्मा ने वर्तमान में पृथ्वी पर पॉलिथिन के अति उपयोग से होने वाले खतरे के बारे मे बताया l उन्होंने कहा कि प्लास्टिक का हर हाल में बहिष्कार होना चाहिए l वही ऋषि सिंह राजपूत ने चिडिया तथा सभी आवारा पशुओं के दाना पानी तथा सुरक्षा के विषय मे प्रकाश डाला क्योंकि वे भी प्रकृति अहम हिस्सा हैं l जहां एक ओर रोशन तांडी पर्यावरण संरक्षण में युवाओं की भूमिका पर प्रकाश डाला वहीं के. हेम राजू ने बढ़ते प्रदूषण पर अपने विचार व्यक्त किए l इसी तारतम्य में एकता सिन्हा ने मानवता के धर्म को निभाते हुए युवाओं से अपील की कि सड़कों पर गाडी चलाते समय ध्यान रखे ताकि ओवर स्पीड की वजह से निरीह जानवरों की जान ना जाये l 

इसी पहल में एन एस एस वॉलंटियर्स तथा एनसीसी कॅडेट्स ने मिलकर श्री गोल्डी सिंह राजपूत के निर्देशन में एवं कल्पतरू सेवा समिती के सहयोग से सार्वजनिक स्थान सकोरे बांटे तथा लोगो से अपील की कि इस भरी गर्मी में इन सकोरों मे पानी भरकर रखें ताकि प्यास से चिडिया या जानवर हताहत ना हों l 

कार्यक्रम के अंत मे धन्यवाद ज्ञापन श्री गोल्डी सिंह राजपूत ने किया l कार्यक्रम को सफल बनाने में श्रीमती ज्योती मिश्रा,सहायक प्राध्यापक, अर्थशास्त्र का विशेष योगदान रहा l

कार्यक्रम के समापन पर एनएसएस वॉलंटियर्स और एनसीसी कैडेट्स ने मिलकर सार्वजनिक स्थानों पर सफाई भी की तथा लोगों से पर्यावरण को बचाने के लिए अपनी जिम्मेदारी समझने का आग्रह किया।