Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

लघु फिल्म "जमीन" को मिला सर्वश्रेष्ठ लघु फिल्म का पुरस्कार

 छ.ग. राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, बिलासपुर रायपुर. असल बात news.   छत्तीसगढ़ वरिष्ठ नागरिक कान्फेडरेशन एवं छ.ग. राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण त...

Also Read



 छ.ग. राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, बिलासपुर


रायपुर.

असल बात news.  

छत्तीसगढ़ वरिष्ठ नागरिक कान्फेडरेशन एवं छ.ग. राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण तथा छ.ग. हेल्पेज इंडिया के संयुक्त तत्वावधान में वरिष्ठ नागरिक कान्फेडरेशन का पंचम प्रादेशिक सम्मेलन तथा टेली लॉ लघु फिल्म महोत्सव का पुरस्कार वितरण प्रो.जे.एन. पाण्डेय शास. बहु. उत्कृष्ट उच्च माध्य. विद्यालय में  हुआ। जिसमें मुख्य अतिथि श्री न्यायमूर्ति गौतम भादुड़ी न्यायाधीश छ.ग. उच्च न्यायालय एवं कार्यपालक अध्यक्ष राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, बिलासपुर थे तथा विशिष्ट अतिथि सुश्री अनुपमा दत्ता, डायरेक्टर, हेल्पेज इंडिया, दिल्ली तथा वक्तव्य के रूप में श्री शुभांकर विश्वास, छ.ग. प्रमुख, हेल्पेज इंडिया, रायपुर एवं डॉ. श्रीमती उषा किरण बाजपेई, अधिवक्ता-परामर्शदाता कुटुम्ब न्यायालय थी।

सर्वप्रथम कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथिगण द्वारा दीप प्रज्जवल कर किया गया। उसके बाद माननीय अतिथिगण का पुष्पहार द्वारा स्वागत वंदन किया गया। श्री देवेन्द्र शर्मा कोषाध्यक्ष द्वारा छ.ग. वरिष्ठ नागरिक कान्फेडरेशन की गतिविधियों एवं कर्मचारियों के संबंध में व्याख्यान दिया गया। तत्पश्चात श्रीमती सरला शर्मा द्वारा छ.ग.वरिष्ठ नागरिक कान्फेडरेशन की गतिविधियों पर विस्तृत प्रकाश डाला गया। इसी दौरान छ.ग. वरिष्ठ नागरिक कान्फेडरेशन की पुस्तक "अनुभूति" का विमोचन मुख्य अतिथि श्री न्यायमूर्ति गौतम भादुड़ी न्यायाधीश छ.ग. उच्च न्यायालय एवं कार्यपालक अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बिलासपुर के द्वारा किया गया। श्री शुभंकर विश्वास छ.ग. प्रमुख, हेल्पेज इंडिया, रायपुर द्वारा वरिष्ठ नागरिकों की समस्या तथा हेल्पेज इंडिया द्वारा वरिष्ठ नागरिकों के लिये किये जानेवाले कार्यों के बारे में बताया गया। डॉ.श्रीमती उषा किरण बाजपेई अधिवक्ता परामर्शदाता कुटुम्ब न्यायालय द्वारा भरण पोषण अधिनियम 2007 की 07 अध्याय एवं 32 धाराओं के बारे में विस्तार से बताया गया तथा उक्त समिति द्वारा न्यायाधीशों का सम्मान किया गया। श्री आनंद प्रकाश वारियल सदस्य सचिव छ.ग. राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण बिलासपुर द्वारा सभा को संबोधित करते हुये नालसा (वरिष्ठ नागरिकों के लिये विधिक सेवा) योजना 2016 पर प्रकाश डाला गया और बताया गया कि  श्री न्यायमूर्ति गौतम भादुड़ी के निर्देश पर वरिष्ठ जनों के लिये "करूणा" अभियान चलाया जा रहा है, जिसमें माह जनवरी 2023 से दिसंबर 2023 तक की अवधि में सभी जिला विधिक सेवा प्राधिकरणों में पैरालीगल वालेंटियर्स, पैनल अधिवक्ताओं के सहयोग से 2522 कार्यक्रम पूरे राज्य भर में आयोजित किया गया है.जिसमें 88,560 वरिष्ठजनों को लाभांवित किया गया है।

 इसके अतिरिक्त उन्होंने टेली लॉ पर आधारित लघु फिल्मों के संबंध में संक्षिप्त परिचय दिया। इसके अतिरिक्त उन्होंने यह भी बताया कि नेशनल लोक अदालत में वरिष्ठ नागरिकों के केसेस में निराकरण शीघ्र किये जाने के निर्देश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, बिलासपुर द्वारा दिये गये। लघु फिल्म के पुरस्कार कार्यक्रम में माननीय न्यायमूर्ति श्री गौतम भादुड़ी, न्यायाधीश, छ.ग. उच्च न्यायालय, बिलासपुर एवं कार्यपालक अध्यक्ष, छ.ग. राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, बिलासपुर द्वारा अपने करकमलों से प्रथम पुरुस्कार फिल्म "जमीन" निर्माता रामानंद तिवारी को मिला, जिन्हें 1, 0/- 744 का चेक प्रदान किया गया। द्वितीय पुरूस्कार फिल्म "किरण द अनटोल्ड स्टोरी" निर्माता राहुल पारेख को मिला, जिन्हें 50000 /- रूपये का चेक प्रदान किया गया तथा तृतीय पुरूस्कार फिल्म "बेटी" निर्माता रामानंद तिवारी को मिला जिन्हें 25,000/- रूपये का चेक प्रदान किया गया। उक्त कार्यकम में जिला न्यायाधीश महोदय श्री अब्दुल ज़ाहिद कुरैशी, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट श्री दिग्विजय सिंह, विशेष रेल्वे मजिस्ट्रेट श्री गिर्जेश प्रताप सिंह व जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, रायपुर के सचिव श्री प्रवीण मिश्रा एवं अन्य मजिस्ट्रेटगण उपस्थित रहे।

कार्यक्रम के अंत में मुख्य अतिथि श्री न्यायमूर्ति गौतम भादुड़ी, न्यायाधीश, छ.ग. उच्च न्यायालय एवं कार्यपालक अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बिलासपुर ने अपने संबोधन में कहा कि छ.ग. राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, बिलासपुर सदैव वरिष्ठजनों के लिए कार्य करने के लिए समर्पित है। उच्च न्यायालय में न्यायाधीश के रूप में मैं स्वयं तथा हमारी न्यायपालिका वरिष्ठ नागरिकों के प्रकरणों के निराकरण में हमेशा संवेदनशील रहें हैं और रहेंगे और न्यायपालिका अन्य मामलों के साथ-साथ वरिष्ठजनों के मामलों की शीघ्र सुनवाई कर सदैव मुखर रही है। आज इस कार्यक्रम के माध्यम से टेली लॉ लघु फिल्म के निर्माताओं को पुरस्कृत किया गया है। पुरस्कार उनका उत्साहवर्धन करने के साथ-साथ यह भी संदेश प्रसारित कर रहा है। कि अब कानूनी ज्ञापन किताबों से निकलकर आधुनिक संसाधनों जैसे कानूनी विषयों पर आधारित लघु फिल्म के माध्यम से प्रदान किया जा सकता है और छ.ग. राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, बिलासपुर के दिशा में लगातार कार्य कर रह है। वरिष्ठजनों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि वरिष्ठजनों ने पूरे समाज को जीने का अधिकार दिया है। आपने जो समाज को दिया है, परिवार को दिया है, उसी के कारण आज यह व्यवस्थित समाज है, आपका परिवार व्यवस्थित है और देश भी व्यवस्थित है इसीलिए हम सभी वरिष्ठजनों के कानूनी अधिकारों को सुरक्षित करने को प्रतिबद्ध है।