Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

  भिलाई,दुर्ग,पाटन. असल बात news.   देवों के देव महादेव की पूजा अर्चना  के सबसे बड़े त्यौहार महाशिवरात्रि पर्व के दिन सांसद विजय बघेल ने विभ...

Also Read

 भिलाई,दुर्ग,पाटन.

असल बात news. 

 देवों के देव महादेव की पूजा अर्चना  के सबसे बड़े त्यौहार महाशिवरात्रि पर्व के दिन सांसद विजय बघेल ने विभिन्न मंदिरों में पहुंचकर आराध्य देव महादेव की पूजा अर्चना की.

महाशिवरात्रि की धूम, शिवमंदिरों में लगी भक्तों की भीड़, देखिए कैसे उमड़ रहे श्रद्धालु

Mahashivratri Pakistan: पाकिस्तान में मौजूद मंदिरों में महाशिवरात्रि के मौके पर भारी भीड़ जुट रही है। वहां रहने वाला हिंदू समाज महाशिवरात्रि के मौके पर पूजा के लिए मंदिरों में पहुंच रहा है। इसके साथ ही भारत से भी श्रद्धालुओं का जत्था पाकिस्तान के कटासराज में महाशिवरात्रि मनाने के लिए पहुंचा है।

भगवान शिव की आराधना का पर्व महाशिवरात्रि हिंदू समाज आज शुक्रवार को पूरे उल्लास के साथ मना रहा है। भारत ही नहीं पाकिस्तान में भी मंदिरों पर श्रद्धालुओं की भीड़ नजर आ रही है। सोशल मीडिया पर पाकिस्तान से ऐसी तस्वीरें और वीडियो सामने आ रहे हैं। पाकिस्तानी पत्रकार दिलीप कुमार खत्री ने सिंध प्रांत के उमरकोट में स्थित महादेव मंदिर का एक वीडियो जारी किया है, जहां महाशिवरात्रि के मौके पर पूजा करने के लिए पहुंच रहे हैं। उन्होंने इसे पाकिस्तान में मौजूद विविधता और सांस्कृतिक समृद्धि का एक प्रतीक कहा।

शिवरात्री प्रत्येक माह की चतुर्दशी को आती है परंतु महाशिवरात्रि का इनमे विशेष स्थान है। यह भगवान शिव का प्रमुख पर्व है। माघ फागुन कृष्ण पक्ष चतुर्दशी को महाशिवरात्रि पर्व मनाया जाता है ।


• पौराणिक इतिहास के अनुसार इस दिन भगवान शिव प्रथम बार भौतिक स्वरुप धारण कर अग्निलिंग (जो भगवान शिव का अनंत विशालकाय स्वरूप है जिसका तेज करोड़ो सूर्य के समान था ।) के रूप में प्रकट हुए ।


•यह रात्रि आध्यात्मिकता के आधार पर काफी महत्वपूर्ण मानी जाती है। महाशिवरात्रि के दिन शिवलिंग की विशेष तौर पर पूजा होती है। यह पूजा वृत रखने के दौरान की जाती है। साल में होने वाली 12 शिवरात्रियों में से महाशिवरात्रि को सबसे महत्वपूर्ण माना जाता है|


• महाशिवरात्री को लेकर भारतवर्ष में एक भ्रांति फैली है जिसके अनुसार माना जाता हे की शिव पार्वती विवाह महाशिवरात्री को हुआ था परंतु...

शिव पुराण के 35 वें अध्याय में रूद्र संहिता के अनुसार महर्षि वशिष्ठ ने राजा हिमालय को भगवान शिव और पार्वती विवाह के लिए समझाते हुए विवाह का मुहूर्त मार्गशीर्ष माह में होना तय किया था।

रूद्र संहिता के पार्वती खंड के श्लोक 58 , 61 में शिव पार्वती विवाह की तिथि का उल्लेख किया गया हे जिसके अनुसार शिव पार्वती विवाह तिथि...