Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

इथेनॉल प्लांट के निर्माण कार्य में विलम्ब के लिए उपकरण आपूर्ति और निर्माण फर्म को नोटिस

  * इथेनॉल प्लांट की टेस्टिंग फरवरी से करें प्रारंभ :कलेक्टर *कलेक्टर ने इथेनॉल प्लांट के संचालन हेतु मानव संसाधन नियुक्त कर प्रशिक्षण देने ...

Also Read

 


*इथेनॉल प्लांट की टेस्टिंग फरवरी से करें प्रारंभ :कलेक्टर

*कलेक्टर ने इथेनॉल प्लांट के संचालन हेतु मानव संसाधन नियुक्त कर प्रशिक्षण देने के दिए निर्देश

*कलेक्टर ने निर्माणाधीन इथेनॉल प्लांट का किया निरीक्षण

कोण्डागांव.

असल बात न्यूज़.  

 यहां निर्माणाधीन एथेनॉल प्लांट के निर्माण कार्य में देरी सरकार को पसंद नहीं आ रही है. अब इस देरी के लिए जिम्मेदार एजेंसी को कारण बताओं नोटिस दे दी गई है. इस प्लांट का निर्माण क्षेत्र के लोगों के लिए काफ़ी महत्वपूर्ण योजना है. इस क्षेत्र में मक्के का बहुत आयात में उत्पादन होता है और यहां के किसानों को उम्मीद है कि इस प्लांट में उनके मक्के की अच्छे दाम में खरीदी हो सकेगी. लेकिन पिछले 4 वर्षों से इस प्लांट का निर्माण कार्य पूरा नहीं हो पा रहा है जिससे क्षेत्र के लोगों में असंतोष व्याप्त है. उम्मीद  की जा रही है कि इस साल मार्च महीने से मक्के का उपार्जन शुरू हो जाएगा.

 कलेक्टर कुणाल दुदावत ने शनिवार को कोण्डागांव विकासखंड के कोकोड़ी ग्राम स्थित निर्माणाधीन इथेनॉल प्लांट का निरीक्षण किया। इस दौरान कलेक्टर ने सभी निर्माण एजेंसियों के प्रतिनिधियों से चर्चा की। जिसमें प्लांट के लिए मक्का उपार्जन हेतु कार्ययोजना पर चर्चा करते हुए मार्च से मक्का उपार्जन प्रारंभ करने के निर्देश दिए। उन्होंने प्लांट के अधिकारियों से मक्का के भंडारण के लिए प्लान तैयार कर उपार्जित मक्के के व्यवस्थित भंडारण हेतु चर्चा की। उन्होंने  संयंत्र के निर्माण में विलम्ब के लिए उपकरण आपूर्ति एवं निर्माण फर्म को नोटिस देने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने प्लांट के संचालन के लिए आवश्यक समाग्री की व्यवस्था हेतु कार्ययोजना, बिजली आपूर्ति, पावर प्लांट के संचालन, मक्का उपार्जन एवं भुगतान हेतु सॉफ्टवेयर का विकास कर उसे संचालित करने हेतु कार्ययोजना निर्माण पर चर्चा की। प्लांट तक पहुंच मार्ग को भारी वाहनों के आवागमन को देखते हुए मार्ग नवीनीकरण करने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिए। 

कलेक्टर द्वारा प्लांट का भ्रमण करते हुए सोलर प्लांट स्थापना, पावर प्लांट में टरबाइन स्थापना, सीसी रोड के निर्माण, निर्माण गुणवत्ता की जांच, अग्नि शामक संयंत्र एवं कार्बन डाई ऑक्साइड प्लांट की स्थापना जल्द से जल्द पूरा कराने के निर्देश दिए। उन्होंने मानव संसाधन आपूर्ति के लिए शासन द्वारा स्वीकृत कार्ययोजना के अनुसार लोगों को विभिन्न कार्यों हेतु नियुक्त कर प्रशिक्षण देने हेतु निर्देशित किया। प्लांट के अधिकारियों को टेस्टिंग का कार्य फरवरी से प्रारंभ कर पूर्ण कराने को कहा। प्लांट के कार्यों में तीव्रता लाने के लिए उन्होंने सभी निर्माण एजेंसियों को 07 दिनों के भीतर श्रमिकों की संख्या बढ़ाने के लिए भी निर्देश दिए।

 इस अवसर पर जिला पंचायत सीईओ प्रेम प्रकाश शर्मा, एसडीएम निकिता मरकाम, प्लांट के प्रबंध निदेशक के एल उईके, लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन अभियंता एआर मरकाम सहित अन्य अधिकारी और प्लांट निर्माण एजेंसियों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।