Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

लोकसभा चुनाव में क्रिटिकल एवं वल्नरेबिलिटी मैपिंग के लिए प्रशिक्षण आयोजित, अधिकारियों को भ्रमण कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने दिए निर्देश

 दुर्ग       दुर्ग, आगामी लोकसभा चुनाव में विधानसभावार मतदान प्रक्रिया सुचारू रूप से सम्पन्न कराने क्रिटिकल एवं वल्नरबिलिटी मैपिंग के लिए आज...

Also Read

 दुर्ग 



     दुर्ग, आगामी लोकसभा चुनाव में विधानसभावार मतदान प्रक्रिया सुचारू रूप से सम्पन्न कराने क्रिटिकल एवं वल्नरबिलिटी मैपिंग के लिए आज कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी की उपस्थिति में बीआईटी कॉलेज के ऑडिटोरियम में सेक्टर अधिकारी एवं पुलिस सेक्टर अधिकारियों को संयुक्त प्रशिक्षण दिया गया। सभी सेक्टरों में आवश्यक मूलभूत सुविधा की उपलब्धता के संबंध में भौतिक रूप से निरीक्षण सुनिश्चित किए जाने के लिए सभी सेक्टर अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया। जिले में 611 मतदान केन्द्र है। इसके लिए कलेक्टर ने सभी सेक्टर अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। 

कलेक्टर सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी ने कहा कि लोकसभा निर्वाचन 2024 की तैयारियों का सिलसिला प्रारंभ हो गया है। सभी सेक्टर अधिकारी प्रशिक्षण में दी जा रही सूचनाओं को बारीकी से समझे। उन्होंने कहा कि सेक्टर अधिकारी को संबंधित क्षेत्र का सम्पूर्ण जानकारी होना चाहिए, ताकि अधिकारी संबंधित क्षेत्र के मतदान केन्द्रों की व्यवस्था से वाकीफ हो जाएं। 

इसके अलावा सेक्टर अधिकारी के रूप में जो क्षेत्र आबंटित की जा रही है उस क्षेत्र में आने वाले सभी मतदान केन्द्रों का स्वयं जाकर मूलभूत सुविधाओं आदि की जांच कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा। उन्होंने अधिकारियों को संबंधित क्षेत्र के मतदान केन्द्रों में बिजली, पानी, शौचालय आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करने व क्राईम वाले क्षेत्रों में ज्यादा ध्यान दिए जाने की बात कही। सेक्टर अधिकारी संबंधित पुलिस अधिकारी के साथ समन्वय कर निरीक्षण रिपोर्ट 20 जनवरी तक प्रस्तुत करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि सेक्टर अधिकारी को संबंधित क्षेत्र का सम्पूर्ण जानकारी होना चाहिए। कलेक्टर ने निर्वाचक नामावली में नाम जोड़ना, विलोपित करना एवं त्रुटिसुधार आदि कार्य को शीघ्र करने को कहा।

पुलिस अधीक्षक श्री रामगोपाल गर्ग ने कहा कि निर्वाचन करवाने में सेक्टर अधिकारी का बहुत महत्वपूर्ण दायित्व है। इस प्रशिक्षण कार्यशाला मंे प्रारंभिक शंकाओं को तत्काल निराकरण करवाएं, ताकि निर्वाचन कार्य में कोई बाधा न हो। सेक्टर अधिकारी और पुलिस के अधिकारियों को आपस में मिलकर मैपिंग कार्य को किया जाना है। उन्होंने मतदान केन्द्रों की आवश्यक व्यवस्था, रूट चार्ट, परिवहन व्यवस्था की जरूरत, मतदाता संख्या के आधार अन्य आवश्यक व्यवस्था का निरीक्षण करने को कहा। इसी प्रकार अपने सेक्टर से लगे हुए दूसरे सेक्टर के भी सेक्टर अधिकारी से समन्वय बनाकर रखें, ताकि भ्रमण के दौरान संबंधित क्षेत्र के घटना की जानकारी उन्हें दिया जा सके।

प्रशिक्षण में अपर कलेक्टर श्री अरविंद एक्का, संयुक्त कलेक्टर श्री हरवंश मिरी, श्री गोकुल रावटे, एसडीएम श्री मुकेश रावटे, उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री बजरंग दुबे सहित जिले के सभी 6 विधानसभा क्षेत्र के रिटर्निंग आफिसर उपस्थित थे।