Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

रेमडेसिवीर की कालाबाजारी हुई तो होगी सीधे जेल

  कलेक्टर ने दिए सख्त निर्देश,  -अस्पतालों को उपयोग के लिए मिले स्टॉक की प्रतिदिन ऑडिट करेंगे नोडल अधिकारी - होगी सख्त मॉनिटरिंग, कलेक्टर ने...

Also Read

 कलेक्टर ने दिए सख्त निर्देश, 

-अस्पतालों को उपयोग के लिए मिले स्टॉक की प्रतिदिन ऑडिट करेंगे नोडल अधिकारी

- होगी सख्त मॉनिटरिंग, कलेक्टर ने दिए नोडल अधिकारियों को निर्देश

दुर्ग । असल बात न्यूज।

 इस समय covid-19 से संक्रमित लोगों के इलाज के लिए रेमडेसिवीर  नामक इंजेक्शशन की सबसे अधिक मान हो रही है। यहीी दवा बाजार से गायब हो गई है। जिले के कलेक्टर नेेेेे चेतावनी दी है कि इस दवा की जो भी कालाबाजारी करते पकड़ा जाएगा उसे तत्काल जेल में दिया जाएग।

कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने  अधिकारियों को कड़े निर्देश जारी किए हैं कि रेमडेसिवीर की कालाबाजारी का कोई भी मामला संज्ञान में आए तो संबंधित व्यक्ति को सीधे जेल भेजने की कार्रवाई की जाए। कलेक्टर ने अस्पताल प्रबंधकों को निर्देश दिए हैं कि मरीजों के परिजनों को वर्तमान में उपलब्ध नहीं होने की वजह से मेडिकल स्टोर्स के लिए रेमडेसिवीर की पर्ची लिखकर ना दें। 

उपलब्धता होते ही इसकी सूचना जारी कर दी जाएगी। अस्पतालों को जितना स्टॉक उपयोग के लिए दिया गया है उसका उपयोग करें। स्टॉक की कालाबाजारी होने की किसी भी प्रकार की सूचना मिलने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी तथा ऐसी जानकारी मिलने पर सीधे जेल भेजने की कार्रवाई की जाएगी। नोडल अधिकारी हर दिन अस्पताल में इस दवा के स्टॉक की ऑडिट करेंगे, किसी भी तरह की अनियमितता मिलने पर सूचना देंगे और ऐसा पाए जाने पर सीधे जेल भेजने की कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि स्टॉक विक्रय के लिए उपलब्ध होने पर इसकी सूचना नागरिकों को दी जाएगी अतः नागरिक बाजार में रेमडेसिवीर दवा खरीदने ना पहुंचे।