Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

ब्रेकिंग :

latest

Breaking News

चार दिनों से रोज बढ़ती जा रही है कोरोना के संक्रमितो की संख्या

रायपुर दुर्ग। असल बात न्यूज। रायपुर और  दुर्ग जिले में 2 महीने के बाद कोरोना के फिर से रिकॉर्ड मरीज मिल रहे हैं। पिछले 2 महीने तक स्थिति काफ...

Also Read

रायपुर दुर्ग। असल बात न्यूज।

रायपुर और  दुर्ग जिले में 2 महीने के बाद कोरोना के फिर से रिकॉर्ड मरीज मिल रहे हैं। पिछले 2 महीने तक स्थिति काफी कुछ नियंत्रित  लग रही थी, लेकिन अब फिर से कोरोना के प्रति दिन जिस तरह से नए संक्रमित मरीज फिर से तेजी से मिल रहे हैं उससे स्थिति चिंताजनक होती नजर आ रही है। पिछले 2 महीने के दौरान जरूर जिले और रायपुर जिले में 24 घंटे के भीतर सिर्फ 50,70 नए संक्रमित मिल रहे थे लेकिन अब यह संख्या 100 से ऊपर पहुंच कर और आगे बढ़ती जा रही है। कोरोना के संक्रमण के ताजा बढ़ते फैलाव को जिला प्रशासन ने भी गंभीरता से लिया है तथा इसे नियंत्रित करने रोकथाम के लिए कड़े कदम उठाए जाने शुरू किए गए हैं। अब मास्क नहीं पहनने पर कड़ी कार्रवाई करने की चेतावनी दी गई है। कोरोना के संक्रमण से लोगों की मौतों की संख्या भी एक बार फिर बढ़ रही है।
आंकड़ों में छत्तीसगढ़ में कोरोना के नए संक्रमित मिलने के मामले को देखें तो मार्च महीने के शुरुआत में भी यहां कोरोना के नए संक्रमित अधिक नहीं मिल रहे थे। मार्च महीने के पहले सप्ताह में 5 दिन तक तो प्रतिदिन मिलने वाले को रोना के नए संक्रमितो की संख्या 300 से कम ही रह रही थी।8 मार्च के बाद से कोरोना के संक्रमितों की संख्या में  बढ़ोतरी होनी शुरू हुई। और अभी यह चिंताजनक स्थिति पर पहुंच गई है। 8, 9 और march को छत्तीसगढ़ प्रदेश में 400 से कम संक्रमित मिलते रहे तो इसके बाद 11 मार्च से प्रतिदिन 400 से अधिक नए संक्रमित मिल रहे हैं।
दुर्ग रायपुर जिले में 24 घंटे के भीतर अभी जितने अधिक नए संक्रमित  मिल रहे हैं वह रिकॉर्ड है और स्थिति चिंताजनक होती जा रही है। इन दोनों जिलों में कोरोना की चपेट में आकर लगभग pratidin लोगों की जान जा रही है

महाराष्‍ट्र, केरल, पंजाब, कर्नाटक, गुजरात और तमिलनाडु में प्रतिदिन कोरोना मामलों में लगातार बढ़ोतरी जारी है
देश के कुछ राज्‍यों में प्रति दिन आधार पर कोरोना मामलों की अधिक संख्‍या दर्ज की जा रही है। महाराष्ट्र, केरल, पंजाब, कर्नाटक, गुजरात और तमिलनाडु में प्रतिदिन कोरोना मामलों में लगातार बढ़ोतरी जारी है। पिछले 24 घंटों में कोरोना के सामने आये नये मामलों में इन राज्‍यों का समग्र योगदान 85.6 प्रतिशत है।

पिछले 24 घंटों में कोरोना के 23,285 नये मामले दर्ज किये गए। 

महाराष्ट्र में दैनिक आधार पर सबसे अधिक 14,317 (61.48 प्रतिशत) नये मामले दर्ज किये गये हैं और इसके पश्चा्त केरल में 2,133 तथा पंजाब में 1,305 नये मामले दर्ज हुए।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image001FWJX.jpg

8 राज्‍यों में दैनिक आधार पर कोरोना मामलों में लगातार बढ़ोतरी देखी जा रही है।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image002A998.jpg

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image003GYN1.jpg

भारत में आज कोरोना के कुल सक्रिय मामले (केसलोड) 1,97,237 हैं और भारत में इस समय सक्रिय मामले देश के कुल पॉजिटिव मामलों का 1.74 प्रतिशत है।

देश के कुल सक्रिय मामलों में पांच राज्‍यों का समग्र योगदान 82.96 प्रतिशत है और दो राज्‍यों महाराष्‍ट्र और केरल का देश के सक्रिय मामलों में 71.69 प्रतिशत योगदान है।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image004KX7T.jpg

कोरोना मामलों में बढ़ोतरी वाले राज्‍यों/केन्‍द्रशासित प्रदेशों में नियंत्रण एवं प्रबंधन के लिए केन्‍द्र सरकार स्थिति पर बारीकी से नजर बनाए हुए है और इन राज्‍यों में कोविड मामलों की स्थिति की समीक्षा, इससे निपटने की रणनीति और जन स्‍वास्‍थ्‍य उपायों को भी अपनाया जा रहा है। हाल ही में केन्‍द्र सरकार ने महाराष्‍ट्र और पंजाब में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए इन पर नियंत्रण के लिए उच्‍चस्‍तरीय जन स्‍वास्‍थ्‍य टीमों को भेजा है। इससे पहले, केन्‍द्र सरकार ने महाराष्‍ट्र, केरल, छत्‍तीसगढ़, मध्‍य प्रदेश, गुजरात, पंजाब, कर्नाटक, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, जम्‍मू-कश्‍मीर में ऐसी ही उच्‍चस्‍तरीय टीमों को भेजा था, ताकि कोरोना के बढ़ते मामले और इस पर नियंत्रण के लिए इनकी मदद की जा सके। केन्‍द्रीय टीमों की रिपोर्टों को राज्‍य सरकारों के साथ साझा किया गया है और इन मामलों में अग्रप्रेषित कार्रवाई और अनुपालना संबंधी मामलों पर केन्‍द्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय नजर बनाए हुए है।

आज सुबह 7 बजे तक प्राप्‍त अनंतिम रिपोर्ट के अनुसार देश में 4,87,919 सत्रों के जरिये 2.61 करोड़ (2,61,64,920) वैक्‍सीन के डोज लोगों को दिए जा चुके हैं। इनमें 72,23,071 एचसीडब्ल्यू (पहली डोज), 40,56,285 एचसीडब्ल्यू (दूसरी डोज), 71,21,124 एफएलडब्ल्यू (पहली डोज) और 6,72,794 एफएलडब्ल्यू (दूसरी डोज), 45 वर्ष से अधिक आयु के अन्‍य रोगों से ग्रस्त 10,30,612 लाभार्थी (पहली डोज) और 60 वर्ष से अधिक आयु वाले 60,61,034 लाभार्थियों को दी गई डोज शामिल हैं।