गरिमामय ढंग से मनाया जायेगा गणतंत्र दिवस

 


 कांकेर -जिले में गणतंत्र दिवस समारोह गरिमामय ढंग से आयोजित किया जायेगा। कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला एवं पुलिस अधीक्षक श्री शलभ कुमार सिन्हा ने आज अधिकारियों की बैठक लेकर गणतंत्र दिवस समारोह आयोजित करने के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिये। जिले के विभिन्न शासकीय संस्थाओं एवं शैक्षणिक संस्थाओं में ध्वजारोहण प्रातः 7.30 बजे की जाएगी तथा राष्ट्रगान होगा। नगर में स्थित समस्त शासकीय एवं अशासकीय संस्थाओं के छात्र-छात्राओं द्वारा प्रभात फेरी निकालकर प्रातः 8.30 बजे तक शिक्षक-शिक्षिकाएं सहित मुख्य कार्यक्रम स्थल पर पहुंचेंगे। जिला स्तरीय समारोह शासकीय नरहरदेव उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के खेल मैदान में आयोजित किया जाएगा, जहां पर मुख्य अतिथि द्वारा प्रातः 09 बजे ध्वजारोहण कर परेड की सलामी ली जाएगी।

           कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला द्वारा गणतंत्र दिवस समारोह के संबंध में विभिन्न विभागों के अधिकारियों को दायित्व सौंपा गया है। कार्यक्रम स्थल में मंच निर्माण, मार्च पास्ट ट्रैक निर्माण एवं परेड ग्राउंड के समतलीकरण का दायित्व लोक निर्माण विभाग को सौंपा गया है। साफ-सफाई एवं स्वच्छता की व्यवस्था नगर पालिका द्वारा की जाएगी। बांस बल्ली वन विभाग द्वारा उपलब्ध कराया जाएगा। मुख्य नगर पालिका अधिकारी कांकेर द्वारा कार्यक्रम स्थल पर पेयजल व्यवस्था की जाएगी तथा लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा मैदान के चारों ओर फ्लेग पोल लगाकर रंगीन झण्डे लगाये जाएंगे। माईक की व्यवस्था अनुविभागीय अधिकारी ईएंडडीएम द्वारा किया जाएगा। विद्युत एवं जनरेटर की व्यवस्था कार्यपालन अभियंता छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत मंडल द्वारा की जाएगी। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा रंगोली बनाई जायेगी। गणतंत्र दिवस समारोह के अवसर पर स्कूली छात्र-छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया जाएगा, जिसके लिए चयन समिति बनाई जाएगी। मार्च पास्ट एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम सहित संपूर्ण तैयारियों का अंतिम रिहर्सल 24 जनवरी को किया जाएगा। मार्च पास्ट का रिहर्सल 11 जनवरी से प्रारंभ होगा। गणतंत्र दिवस समारोह के अवसर पर विभिन्न विभागों द्वारा विभागीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों को रेखांकित करते हुए झांकी निकाली जाएगी। बैठक में अपर कलेक्टर एस. अहिरवार, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी सुमीत अग्रवाल सहित विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी एवं शैक्षणिक संस्थाओं के प्राचार्य उपस्थित थे।