मुख्यमंत्री का जनता से संवाद

 


रायपुर. मुख्यमंत्री बघेल से बात करते हुए खमरिया के किसान नेमसिंग ने बताया की उनके पास 45 एकड़ खेती है। उनका 4.25 लाख रुपए का कर्ज माफ हुआ है। घर खर्च के बाद उन्होंने बोर खनन कराया। उन्होंने खेती की कमाई से ट्रैक्टर और कार लेने के साथ बहु और पत्नी के लिए गहने भी खरीदे। इसी तरह सरोरा के किसान धन्नू लाल चतुवेर्दी ने बताया कि उनका 1 लाख 20 हजार रूपए का कर्ज माफ हुआ है। नेवरा निवासी शरद वर्मा ने बताया कि वे उनका 30 हजार का कर्ज माफ हुआ। इसके साथ उन्होंने मुख्यमंत्री बघेल से नेवरा में सिटी बस चालू करने की मांग की।

मुख्यमंत्री बघेल से लोकेश कुमार नेताम ने अपने पिताजी के स्वास्थ्य लाभ के लिए इलाज की मांग की। इस पर मुख्यमंत्री ने इलाज की व्यवस्था कराने की बात कही। उन्होंने बताया कि विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना में इलाज के लिए 20 लाख रुपए तक की सहायता दी जाती है। ग्राम सरोरा की कुंती यादव ने अपने दिव्यांग बच्चे के लिए नि:शक्तजन पेंशन और दिव्यांगों को दी जाने वाली सुविधाओं को दिलाने की मांग की। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को बच्चे का नाम नोट कर लाभ दिलाने के निर्देश दिए।

मोहदा गांव की परमेश्वरी ने बताया कि उन्हें राशन का समान मिलता है। साथ ही उसने मुख्यमंत्री बघेल को छत्तीसगढि?ा ओलंपिक खेल के शुरू करने पर बधाई देते हुए गांव में खेल मैदान की मांग की। ग्राम चिचोली की राही साहू ने बताया की उन्होंने अभी तक एक लाख रुपए का गोबर बेचा है। बाड़ी से भी एक लाख रुपए की कमाई की। इससे उन्होंने घर बनाया। हाट बाजार क्लिनिक योजना की हितग्राही संगीता वर्मा ने मुख्यमंत्री को दादा बनने पर बधाई दी। उन्होंने बताया कि वे हाट बाजार क्लिनिक में इलाज कराने जाती हैं। मुख्यमंत्री ने भेंट-मुलाकात में लोगों से हाट-बाजार क्लीनिक योजना सहित राज्य सरकार की अन्य योजनाओं का लाभ उठाने का आग्रह किया