रेल यात्रियों के लिये सुविधाएं मांगने केवल चार सांसद बैठक में पहुंचे

 


कोटा,  राजस्थान के कोटा में पश्चिमी-मध्य रेलवे की यात्रियों के लिए रेल सेवाओं पर चर्चा करने के लिए आयोजित बैठक में केवल चार सांसद पहुंचे।
पश्चिमी मध्य रेलवे के महाप्रबंधक सुधीर कुमार गुप्ता की मौजदूगी में 11 आमंत्रित सांसदों में चार ने भाग लिया जबकि पांच ने अपने प्रतिनिधियों को भेजा।
यात्री सुविधाओं पर विचार विमर्श करने तथा रेल सुविधाओं के विकास एवं विस्तार पर चर्चा करने के लिये कोटा रेल मंडल परिक्षेत्र के सांसदों की एक महत्वपूर्ण बैठक शुक्रवार को कोटा में आहूत की गई थी। इसमें झालावाड़ सांसद दुष्यंत सिंह, भीलवाड़ा के सुभाष चंद्र बहेड़िया, टोंक के सुखबीर सिंह जौनपुरिया, मध्यप्रदेश में मंदसौर सांसद सुधीर गुप्ता ने बैठक में भाग लिया जबकि भरतपुर सांसद रंजीता कोली के प्रतिनिधि युवराज सिंह, मथुरा सांसद हेमा मालिनी के प्रतिनिधि संजय गोविल, उज्जैन के अनिल फिरोजिया के प्रतिनिधि महेंद्र गादिया, चितौड़गढ़ के सीपी जोशी के प्रतिनिधि विकास शर्मा एवं कोटा सांसद एवं लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला की तरफ से विधायक कोटा ( दक्षिण) संदीप शर्मा ने बैठक में भाग लिया।
हालांकि बैठक के बाद कोटा रेल मंड़ल के आधिकारिक सूत्रों ने दावा किया कि बैठक में उपस्थित सांसदों ने गत वर्षों में यात्री सुविधाओं के लिए किये जा रहे कई कार्यों की सराहना की जिसके तहत पश्चिमी-मध्य रेलवे में शत-प्रतिशत रेलवे विद्युतीकरण का कार्य करने, रेल यात्रियों को रेल मदद एवं ट्वीटर के माध्यम से त्वरित सहायता प्रदान करने,रेलवे स्टेशनों पर स्वच्छता के अलावा लेवल क्रासिंग को समाप्त करने जैसे कार्यों की सराहना की। सांसदों की इस बैठक में चार सांसदों ने अपने-अपने क्षेत्र के रेल यात्रियों की सुविधाओं के लिए अपने सुझाव दिये जबकि अन्य सांसदों ने अपने प्रतिनिधियों के माध्यम से सुझाव भेजे। बैठक के दौरान कोटा मण्डल रेल प्रबंधक मनीष तिवारी ने पावर प्वाइन्ट प्रेजेंटेशन के माध्यम से मण्डल पर चल रहे विकास कार्यों की जानकारी प्रदान की।