8वीं पास के लिए निकलीं 3842 वैकेंसी, नहीं होगी लिखित परीक्षा, जानें खास बातें

 

नई दिल्ली. राजस्थान में होमगार्ड (स्वयं सेवकों) के पदों पर 3842 वैकेंसी निकाली गई है। इस नई राजस्थान होमगार्ड भर्ती के लिए ऑनलाइन आवेदन 12 जनवरी से 11 फरवरी 2023 तक भरे जाएंगे। चयन प्रक्रिया अप्रैल 2023 के पहले सप्ताह में होने की संभावना है। चयन प्रक्रिया में लिखित परीक्षा नहीं रखी गई है। कुल 50 अंकों पर मेरिट बनेगी। इनमें 25 अंक फिजिकल टेस्ट व शारीरिक मापतौल टेस्ट के होंगे। 20 अंक विशेष योग्यता के होंगे जिसमें एनसीसी, कंप्यूटर सर्टिफिकेट, आईटीआई जैसी योग्यताएं देखी जाएंगी। वहीं 5 अंक का मौखिक व्यक्तित्व परीक्षण होगा। सबसे पहले फिजकल टेस्ट (पीईटी व पीएसटी) होगा।

योग्यता व आयु सीमा
आवेदक मान्यता प्राप्त स्कूल से 8वीं पास होना चाहिए। उसकी उम्र कम से कम 18 वर्ष और अधिकतम 35 वर्ष होनी चाहिए। आयु की गणना 1 जनवरी 2023 से की जाएगी।  इसके अलावा ओबीसी, ईडब्ल्यूएस, एससी, एसटी और आरक्षित वर्गों को सरकार के नियमानुसार अधिकतम आयु सीमा में छूट दी गई है।

शारीरिक मानदंड 
पुरुष
लंबाई - 168 सेमी 
महिला - 152 सेम
छाती (केवल पुरुष उम्मीदवार) सामान्य - 81 सेमी, फुलाकर - 86 सेमी

वजन (केवल महिला उम्मीदवार) - कम से कम 47.5 किलोग्राम

आवेदन फीस
सामान्य व अन्य पिछड़ा वर्ग - 250 रुपये
एससी, एसटी, ईडब्ल्यूएस, एमबीसी - 200 रुपये

यूं कर सकेंगे आवेदन
आवेदन से पहले बनाएं SSO आईडी :
राजस्थान होमगार्ड भर्ती विज्ञापन में कहा गया है कि ओवदन फॉर्म भरने के लिए आपसे एसएसओ आईडी नंबर मांगा जाएगा इसके लिए जरूरी है कि आप पहले संबंधित वेबसाट sso.rajasthan.gov.in पर जाकर एसएसओ आईडी बनाएं। यह प्रक्रिया निशुल्क होती है। एसएसओ आईडी आवेदक को ऑनलाइन आवेदन करते समय ई मित्र कियोस्क को उपलब्ध कराना आवश्यक होगा।

आधिकारिक वेबसाइट से करें आवेदन-
एसएसओ आईडी बनाने के बाद उम्मीदवार को सरकार की आधिकारिक वेबसाइट https://recruitment2.rajasthan.gov.in पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकता है। यदि उम्मीदवार खुद से ऑनलाइन आवेदन नहीं कर सकता वो राज्य सरकार के आधीन संचालित ई-मित्र कियोस्क के माध्यम से आवेदन करा सकता है।

चयन बोर्ड द्वारा मेरिट लिस्ट तैयारी करते समय समान प्राप्तांकों के मामले में अधिक आयु वाले अभ्यर्थी को वरीयता दी जाएगी। इसी तरह प्राप्तांक व आयु सीमा होने पर अधिक शैक्षणिक योग्यता प्राप्त अभ्यर्थी को वरीयता दी जाएगी। शैक्षणिक योग्ता भी समान होने पर विशेष योग्यता अंकों के आधार पर वरीयता दी जाएगी। इसके बाद प्राप्तांक समान रहते हैं तो अंग्रेजी वर्णमाला के अनुसार मेरिट रखी जाएगी।