राष्ट्रीय राजधानी में गणतंत्र दिवस समारोह 2023और जनजातीय नृत्य महोत्सव में 1200 से अधिक कलाकार भाग लेंगे

 नई दिल्ली, छत्तीसगढ़।

असल बात न्यूज़।।

गणतंत्र दिवस समारोह 2023 और अकरम दिवस के रूप में मनाई जा रही  नेताजी सुभाष चंद्र बोस के 126 वी जयंती के अवसर पर 23-24 जनवरी  को  राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली के लाल नेहरू स्टेडियम में आयोजित समारोह में 1200 से अधिक कलाकार अपनी आकर्षक मनमोहक प्रस्तुतियां देंगे।  दिल्ली के  मिलिट्री टैटू और ट्राइबल डांस की थीम पर आधारित इस आयोजन का उद्देश्य हमारे स्वतंत्रता संग्राम में नेताजी सुभाष चंद्र बोस के योगदान पर प्रकाश डालना है।

आयोजन के लिए प्रारंभिक अभ्यास सत्र 10 जनवरी से शुरू हो गया है और सैन्य ढोल और तुरही की गूंज सबका मन मोह ले रही है। यहां अनूठी सांस्कृतिक प्रवृत्तियों का प्रतिनिधित्व करने और "एक भारत श्रेष्ठ भारत" की भावना को बढ़ावा देने के लिए पारंपरिक नृत्य प्रदर्शन के लिए मंच तैयार किया गया है।

लगभग 1200 से अधिक कलाकार प्रत्येक दिन रिहर्सल में अपने कला रूपों को ठीक कर रहे हैं, जिसमें प्रत्येक समूह अपनी अनूठी और रंगीन वेशभूषा, हेडड्रेस, संगीत वाद्ययंत्र और लयबद्ध नृत्य बीट्स के साथ भारत के एक हिस्से को जीवंत कर रहा है। मुख्य कार्यक्रम के दौरान प्रस्तुत किए जाने वाले पारंपरिक नृत्य में गौर मारिया, गद्दी नाटी, सिद्दी धमाल, बैगा परधोनी, पुरुलिया, बगुरुंबा, घुसाड़ी, बाल्टी, लम्बाडी, पाइका, राठवा, बूदीगली, सोंगीमुखवाते, कर्मा, मंघो, का शाद मस्तीह शामिल हैं। कुम्मीकली, पलैयार, चेराव और रेखम पाड़ा। इन कार्यक्रमों और समूहों का समन्वय जनजातीय मामलों के मंत्रालय द्वारा किया जाता है।

पैरामोटर ग्लाइडिंग, हॉट एयर बैलून, हॉर्स शो, खुकुरी डांस, गतका, मल्लखंब, कलरीपयट्टू, थांग-टा, मोटरसाइकिल डिस्प्ले, एयर वारियर ड्रिल, नेवी बैंड और मार्शल आर्ट के जरिए भारतीय सेना इस आयोजन में अपना कौशल पेश कर रही है।

ग्रैंड फिनाले में प्रसिद्ध बॉलीवुड पार्श्व गायक श्री कैलाश खेर की प्रस्तुति भी होगी। जेएलएन स्टेडियम में शो को लाइव देखने के इच्छुक लोग www.bookmyshow.com के माध्यम से अपने मुफ्त टिकट बुक करके ऐसा कर सकते हैं ।



News Update

As part of the Republic Day celebrations 2023 and to mark the 126th birth anniversary of Netaji Subhas Chandra Bose (celebrated as Parakram Diwas), the Military Tattoo & Tribal Dance performances are being showcased under the banner  Adi- Shaurya: Parv Parakram kain Jawahar Lal Nehru Stadium in New Delhi on 23-24 January 2023. Themed as Military Tattoo & Tribal Dance, this event is aimed at throwing light on the contribution of Netaji Subhash Chandra Bose to our freedom struggle.

The Ministry of Defence and Ministry of Tribal Affairs are jointly organising the event, with Indian Coast Guard being the coordinating agency.

The initial practice sessions for the event began on 10 January and the reverberations of the military drums and trumpets have set the stage for the traditional dance performances to blend in representing our country’s unique cultural trends and fostering the spirit of “Ek Bharat Shresht Bharat”.

About 1200 plus performers are fine tuning their art forms each day in rehearsals with each group enlivening a slice of India with their unique and colourful costumes, headdresses, music instruments and rhythmic dance beats. The traditional dance performance to be presented during the main event include Gaurr Maria, Gaddi Nati, Siddi Dhamal, Baiga Pardhoni, Purulia, Bagurumba, Ghusadi, Balti, Lambadi, Paika, Rathwa, Budigali, Songimukhawate, Karma, Mangho, Ka Shad Mastieh, Kummikali, Palaiyar, Cheraw & Rekham Pada. These events and groups are coordinated by Ministry of Tribal Affairs.

The Indian Army is presenting its prowess in the event through Paramotor gliding, Hot Air Balloon, Horse Show, Khukuri Dance, Gatka, Mallakhamb, Kalaripayattu, Thang-ta, Motorcycle Display, Air Warrior Drill, Navy Band and martial arts.

The grand finale will also showcase a performance by famous Bollywood playback singer Shri Kailash Kher. People interested to witness the show live at JLN stadium may do so by booking their free tickets through www.bookmyshow.com.

TOUR OF RASHTRAPATI BHAVAN TO REMAIN CLOSED FROM JANUARY 25 TO 29

 Tour of Rashtrapati Bhavan for the general public will remain closed from January 25 to 29, 2023, due to Republic Day Parade and Beating the Retreat Ceremony-2023.