हर दिन बन रहे हैं 7-8 लाख आयुष्मान कार्ड : मंडाविया

 


नयी दिल्ली. स्वास्थ्य मंत्री मनसुख लाल मंडाविया ने शुक्रवार को कहा कि देश में प्रतिदिन सात से आठ लाख आयुष्मान कार्ड बन रहे हैं और प्रत्येक गरीब को इसके ज़रिए चिकित्सा सुविधा देने का प्रयास किया जा रहा है।
श्री मंडाविया ने लोकसभा में एक पूरक प्रश्न के जवाब में बताया कि देश में हर दिन लाखों आयुष्मान कार्ड बन रहे हैं और जिन लोगों को यह नहीं मिले हैं उन्हें यह कार्ड जल्द उपलब्ध कराने का प्रयास किया जा रहा है। उनका कहना था कि 2011 में जो सूची तैयार की गई थी उसके हिसाब से आयुष्मान कार्ड बनाने थे लेकिन सही लोग 25 प्रतिशत ही मिले हैं ,इसलिए कार्ड बनाने में दिक्कत आ रही है।
उन्होंने गुजरात का उदाहरण दिया और कहा कि राज्य में 50 लाख लोगों की सूची मिली थी लेकिन जब सर्वेक्षण किया तो सिर्फ 10 लाख लोग ही उपलब्ध हुए हैं। इस तरह की दिक्कत पूरे देश में आ रही है और उसका समाधान किया जा रहा है।
स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि इस कार्ड के माध्यम से गरीब का अपोलो जैसे बड़े अस्पताल में इलाज हो रहा है और यह सब आयुष्मान कार्ड की वजह से संभव हो सका है।
उन्होंने कहा कि आयुष्मान कार्ड के इस्तेमाल के लिए देशभर में 22000 अस्पतालों को इनपैनल किया गया है और जहां शिकायतें आ रही हैं उनका समाधान करने का प्रयास किया जाएगा। उनका कहना था कि पैनल में शामिल अस्पतालों को अच्छा पैसा दिया जा रहा है और इस बारे में जो भी शिकायत आएगी उसका समाधान किया जाएगा।