अवैध खनन मामले में इडी की ओर से जारी समन के आलोक में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन

 


अवैध खनन मामले में इडी की ओर से जारी समन के आलोक में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन 17 नवंबर को पूछताछ के लिए जांच अधिकारी के समक्ष हाजिर होंगे. गुरुवार सुबह 11 बजे सीएम के इडी कार्यालय पहुंचने की संभावना है. मुख्यमंत्री को पहली बार एक नवंबर को समन भेज कर तीन नवंबर को पूछताछ के लिए इडी कार्यालय में हाजिर होने का निर्देश दिया गया था. हालांकि उन्होंने हाजिर होने के बदले तीन सप्ताह का समय मांगा. इडी ने इस पर विचार करने के बाद नौ नवंबर को दूसरी बार समन भेज कर 17 नवंबर को हाजिर होने का निर्देश दिया.

इसके बाद मुख्यमंत्री ने 16 नवंबर को ही हाजिर होने का अनुरोध किया. हालांकि इडी ने उनकी मांग को नामंजूर करते हुए उन्हें 17 नवंबर को ही हाजिर होने का निर्देश दिया. उल्लेखनीय है कि साहिबगंज में हुए अवैध खनन मामले में सीएम के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है. ट्रायल कोर्ट में उसकी जमानत याचिका विचाराधीन है. बच्चू यादव व प्रेमप्रकाश को भी जेल भेजा जा चुका है. पंकज मिश्रा पर अवैध खनन व अवैध तरीके से गंगा नदी में स्टीमर चलवा कर नाजायज तरीके से पैसा कमाने और उसे जायज करार देने के लिए लाउंड्रिंग करने का आरोप है.

इडी ने अवैध खनन मामले में अब तक कुल आठ बार छापा मारा. कुल 32 लोगों के ठिकाने पर हुई छापामारी में 5.34 करोड़ रुपये जब्त किये गये. इसके अलावा 37 बैंक खातों में जमा 11.88 करोड़ रुपये मिले. जबकि अवैध ढंग से चलनेवाले स्टीमर, मां दुर्गा स्टोन, अंबा स्टोन जब्त किया गया. छापामारी के दौरान प्रेम प्रकाश के ठिकानों से दो एके-47 राइफल, 60 गोलियां सहित कुछ दस्तावेज जब्त किये गये.