पुरदा में मध्यान भोजन योजना के क्रियान्वयन की जांच करेंगे जिला पंचायत सीईओ कलेक्टर ने दिए निर्देश

 

*-कुल प्राप्त 151 आवेदनों की जांच कर उचित कार्यवाही के संबंधित अधिकारियों को दिए निर्देश


      दुर्ग ।

असल बात न्यूज़।। 

  कलेक्टर श्री पुष्पेन्द्र कुमार मीणाा ने जनदर्शन में आज जिले वासियों की समस्याएं सुनी। आज जनदर्शन में 151 आवेदन प्राप्त हुए जिसके निराकरण हेतु कलेक्टर ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया। 

    पुरदा के रहवासियों ने जनदर्शन में अपनी समस्या रखी। उन्हांने बताया कि शासकीय प्राथमिक शाला छोटे पुरदा का मध्यान्ह भोजन संचालन स्व सहायता समूह के द्वारा विगत कई वर्षों से किया जा रहा हैं। चूकि स्व सहायता समूह पिछले 03 वर्षों से बंद हो चुका है वर्तमान में  मध्यान्ह भोजन योजना के लाभांश के उपयोग व्यक्तिगत किया जा रहा है। इस पर कलेक्टर श्री पुष्पेन्द्र कुमार ने जिला पंचायत सी.ई.ओ. को पूरे प्रकरण की जांच करने के निर्देश दिये। इस दौरान अपर कलेक्टर श्रीमती पद्मिनी भोई, श्री अरविंद एक्का, नगर निगम आयुक्त श्री रोहित व्यास एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

इसी प्रकार सिविक सेंटर नेहरू आर्ट गैलरी के बाजू में अस्थाई व्यवसायियों को स्थापित करने हेतु आवेदन दिया गया जिस पर कलेक्टर ने दुर्ग निगम आयुक्त श्री रोहित व्यास को निर्देशित करते हुए कहा कि बी.एस.पी के साथ मीटिंग कर व्यापारियों के विस्थापन के लिए एक जगह का चिन्हांकन किया जाए और जब तक जगह पर निर्माण कार्य पूरा न हो जाए तब तक अस्थाई रूप से दुकान लगाने की व्यवस्था की जाए।

इसके अलावा भिलाई नेहरू नगर चौक में अवैध अतिक्रमण, कातुल बोर्ड निर्माणाधीन हमर क्लीनिक में विलंब, हॉकी एस्ट्रोटर्फ निर्माण आदि मामलों पर कलेक्टर ने जांच कर जल्द से जल्द उचित कार्यवाही हेतु संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया।