स्वामी स्वरुपानंद महाविद्यालय जिला विधिक सेवा प्राधिकरण जागरुकता रैली में एनसीसी के कैडेट हुए शामिल

 भिलाई ।

असल बात न्यूज़।। 

स्वामी श्री स्वरुपानंद सरस्वती महाविद्यालय के एनसीसी कैडेटस ने जिला विधिक सेवा प्राधिकरण दुर्ग द्वारा आयोजित विधिक जागरुकता रैली में भाग लिया। दुर्ग न्यायालय परिसर में एनसीसी कैडेट के द्वारा विद्यार्थियों ने समाज के कमजोर निशक्त लोगों में अपने अधिकारों के प्रति विधिक जागरुकता लाने के उद्धेश्य से यह रैली आयोजित की गई।

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा आयोजित रैली में जिला न्यायालय परिसर दुर्ग से कॉलेज के एनसीसी कैडेटों के साथ रैली निकाली गई। एनसीसी केयर टेकर श्री अमित कुमार साहू ने बताया रैली के माध्यम से जनता को कानून से संबंधित जानकारी देकर उनका सशक्तिकरण करना है। विधिक जागरुकता से विधिक संस्कृति को बढ़ावा मिलता है कानूनों के निर्माण में लोगों की भागीदारी बढ़ती है।

महाविद्यालय के मुख्य कार्यकारिणी अधिकारी डॉ. दीपक शर्मा एवं प्राचार्य डॉ. श्रीमती हंसा शुक्ला ने एनसीसी कैडेट को बधाई दी व कहा विधिक जानकारी का उपयोग लोगों को जागरुक करने के लिये करें।

इस अवसर पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने विद्यार्थियों को विधिक प्राधिकरण द्वारा चलायी जा रही बालक व बालिकाओं के संरक्षण, एसिड हमलों से पीड़ित, नशा पीड़ितों के नशा उन्मूलन के लिये विधिक सेवा योजनाओं की जानकारी दी। रैली के माध्यम से विद्यार्थियों ने राष्ट्रीय लोक अदालत, बालविवाह रोकथाम अभियान के स्लोगन के माध्यम से लोगों को जागरुक किया। शिविर में कैडेट ने जाना लोक अदालत का सबसे बड़ा गुण निशुल्क तथा त्वरित न्याय है। ये विवादों को मिटाने का वैकल्पिक माध्यम है। इसका उद्देश्य निश्चित करना है कि देश का कोई भी नागरिक आर्थिक या जानकारी के अभाव में न्याय पाने से वंचित न रह जाये। महाविद्यालय के कैडेट समर्थ देशमुख, साहिल पहुजा, विशाल कन्नोजे, हिमांशु साहू, देवदत्त महानंद, विनायक साहू, हर्ष दास वैष्णव, सानिध्य जाधव, अभिषेक चित्ते, हार्दिक कारिया ने कार्यक्रम में भाग लिया।