पोलैंड पर मिसाइल हमला संभवत यूक्रेन ने किया-नाटो


 

 ब्रसेल्स .  पोलैंड में मंगलवार को दो लोगों की मौत संभवत: यूक्रेन के मिसाइल हमले से हुई थी।
नाटो महासचिव जेन्स स्टोलटेनबर्ग ने मीडिया को यह जानकारी दी। उन्होंने यूक्रेन की सीमा के पास विस्फोट की जांच के दौरान बीबीसी को बताया कि यह यूक्रेन की वायु रक्षा मिसाइल हो सकती है। यूक्रेन का कहना है कि वास्तव में यह मिसाइल रूस ने दागी थी।
यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की ने टेलीविज़न टिप्पणी में कहा कि मुझे कोई संदेह नहीं है कि यह हमारी मिसाइल नहीं है। हमारी सैन्य रिपोर्टो के आधार पर मुझे विश्वास है कि यह एक रूसी मिसाइल थी। यूक्रेन की वायु रक्षा प्रणाली मंगलवार को सक्रिय हो गई जब रूस ने 24 फरवरी के आक्रमण के बाद से मिसाइल हमलों की अपनी सबसे बड़ी श्रृंखला शुरू की।
श्री स्टोलटेनबर्ग ने कहा कि नाटो ने यूक्रेन को अधिक उन्नत वायु रक्षा प्रणाली की आपूर्ति करने का वादा किया है। यूक्रेन गठबंधन का सदस्य नहीं है।
उन्होंने कहा कि आज मैंने यूक्रेन के लिए एक सहायता समूह की बैठक में भाग लिया जहां नाटो सहयोगियों और भागीदारों ने अधिक उन्नत वायु रक्षा प्रणालियों के लिए नई प्रतिज्ञा की ताकि हम रूस की मिसाइल को मार गिराने में मदद कर सकें। लेकिन भविष्य में इस तरह की किसी भी घटना को रोकने का सबसे अच्छा तरीका रूस के लिए युद्ध को रोकना
है।
उन्होंने नाटो के मुख्यालय से बोलते हुए कहा कि हमें कोई संकेत नहीं मिला है कि यह रूस की ओर से जानबूझकर किया गया हमला है।
पोलैंड के राष्ट्रपति आंद्रेज डूडा ने पहले कहा था कि मिसाइल हमले का दोष रूस को देने की अधिक संभावना थी लेकिन इसका कोई सबूत नहीं था कि इसे रूस ने दागा था।
श्री स्टोलटेनबर्ग ने मॉस्को और कीव के बीच शांति वार्ता की संभावना के बारे में पूछे जाने पर कहा कि पिछले प्रयासों से पता चला है कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की समझौता और बातचीत करने की कोई इच्छा नहीं थी।