लोकतंत्र की तीनों प्रणाली पर नजर रखना ही मीडिया का काम हैं- डॉ. नरेंद्र त्रिपाठी

 

भिलाई ।

असल बात न्यूज़।।

सेंट थॉमस कॉलेज के पत्रकारिता विभाग द्वारा 15 दिवसीय सर्टिफिकेट प्रोग्राम विषय- “मास कम्युनिकेशन ए टूल ऑफ वेरियस डाईमेंशन” पर आयोजित किया जा रहा हैं। अब तक इस प्रोग्राम में 3 सफलतापूर्वक सेशन विभिन्न विशेषज्ञों के सहयोग से आयोजित किए जा चुके हैं। यह इस प्रोग्राम का तीसरा सेशन आयोजित किया गया था। 

इस कार्यक्रम में विभाग के अलावा अन्य विषयों के विद्धार्थियों ने भी अपनी सहभागिता दर्ज करवाई। कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता विश्वविद्यालय के इलेक्ट्रानिक मीडिया विभाग के हेड ऑफ द डिपॉर्टमेंट डॉ. नरेंद्र त्रिपाठी कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे। प्राचार्य डॉ. एम. जी. रोइमोन ने विभाग को सर्टिफिकेट प्रोग्राम के सफलतापूर्वक सेशन हेतु शुभकामनाएं दी।  पत्रकारिता विभाग की इंचार्ज डॉ. रीमा देवांगन और विभाग के शिक्षक श्री. अमिताभ शर्मा, सौम्या द्विवेदी और छविकिरण साहू के मार्गदर्शन में कार्यक्रम का  सफलतापूर्वक आयोजन किया गया। विभाग द्वारा आयोजित किए गए तीनों ही सेशन छात्रों के लिए लाभकारी रहें। पहले सेशन में छात्रों ने मुख्य वक्ता डॉ. धनेश जोशी से जाना कि किस प्रकार मास कम्युनिकेशन के अलग-अलग पहलुओं पर करियर बनाया जा सकता हैं। मुख्य वक्ता ने यह भी बताया कि मीडिया वहीं दिखाता हैं जो वो देखना चाहता हैं और वहीं सोचवाता हैं जो वो सोचना चाहता हैं।दूसरे दिन के मुख्य वक्ता मोहम्मद जाकिर हुसैन ने बताया कि किस तरह से आज के दौर में अखबारों का चलन कम होता जा रहा हैं क्योंकि लोग अपने हाथों के रिमोट कंट्रोल से चल रहे हैं साथ ही उन्होने प्रिंट मीडिया की विशेषताओं पर भी प्रकाश डाला। 

तीसरे दिन के मुख्य वक्ता नरेंद्र त्रिपाठी ने आज छात्रों को बताया कि क्यों मीडिया को लोकचंत्र में चौथे स्तंभ का दर्जा दिया गया हैं। हमारे लोकतंत्र की तीनों प्रणाली के कार्य को जांच करना उन पर नजर रखना ही लोकतंत्र के चौथे स्तंभ का काम हैं। साथ ही उन्होने पीपीटी के माध्यम से इलेक्ट्रानिक मीडिया के संबंध में छात्रों से बातें की।