चैतन्य देवियों की झांकी देखने बड़ी संख्या में चिकित्सा जगत से जुड़े डॉक्टर्स सहपरिवार पहुंचे...


चैतन्य देवियों की झांकी का कल अंतिम दिन .....

भिलाई ।

असल बात न्यूज़।।

 प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय द्वारा आजादी के अमृत महोत्सव एवं नवरात्रि के पावन अवसर पर आयोजित सेक्टर 7 स्थित पीस ऑडिटोरियम ग्राउंड में नारी शक्ति सम्मान एवं देशभक्ति पर आयोजित चैतन्य देवियों की झांकी को देखने के लिए आज बड़ी संख्या में चिकित्सा जगत से जुड़े डॉक्टर्स सहपरिवार पहुंचे |

 डॉक्टर प्रकाश वाकोडे, शंकराचार्य मेडिकल कॉलेज के डीन ने कहा कि यह चैतन्य देवियों की झांकी शारीरिक एवं मानसिक चेतना जागृति के लिए आवश्यक है, आज के युग में जहां बच्चे और समाज सोशल मीडिया में लगे हुए हैं यह झांकी गांधी जी के विचारों को जनमानस और आंतरिक परिवर्तन करने के लिए आवश्यक है |

डॉक्टर शिवेंद्र श्रीवास्तव ने कहा की रोजमर्रा की जिंदगी से जोड़कर इस झांकी को दिखाया गया है कि इसमें देश भक्ति, नारी सम्मान को अकल्पनीय रूप से प्रस्तुत किया गया है | यह झांकी भिलाई के लिए नही बल्कि राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय स्तर पर दिखाने के लिए होगी,तब इसकी सार्थकता होगी|

डॉक्टर संजय गोयल, डायरेक्टर स्पर्श हॉस्पिटल ने झांकी देखने के पश्चात कहा की  मेडिटेशन से हमारे अंदर की नेगेटिविटी समाप्त होकर एक नए पॉजिटिव एटीट्यूड का निर्माण होता है|

 इस अद्भुत झांकी को देखने के लिए हर वर्ग से प्रबुद्ध जन पहुंचे थे जिसमें सुप्रसिद्ध गायक प्रबंध चतुर्वेदी प्रभंजन चतुर्वेदी ने कहा कि आज का मानव मानसिक शांति के लिए भटक रहा हैं इस झांकी को देखकर नारी के प्रति सम्मान और जीवन की उलझनों से मुक्ति और शांति की अनुभूति होती है|

 झांकी में प्रमुख रूप से डॉक्टर संजय गोयल डायरेक्टर स्पर्श हॉस्पिटल, डॉक्टर शिल्पा गोयल, डॉ प्रकाश वाकोड़े, डॉ राजशेखर डायरेक्टर सुराज हॉस्पिटल, डॉक्टर सुलोचना श्रीवास्तव, डॉक्टर शिवेंद्र श्रीवास्तव, डॉ संगीता पात्रे, लाइफ केयर डायग्नोस्टिक सेंटर के डायरेक्टर मनीष पारख सहित बड़ी संख्या में चिकित्सा जगत से जुड़े प्रबुद्धजनों ने सहपरिवार  झांकी का दर्शन लाभ लिया एवं ब्रह्माकुमारीज के इस अभूतपूर्व आयोजन में निमंत्रण देने के लिए आभार व्यक्त किया।

झांकी का बड़ी संख्या में श्रद्धालु एवं गणमान्य नागरिक दर्शन लाभ ले रहे है| यह झांकी सर्व के दर्शनार्थ निशुल्क कल अंतिम दिन संध्या 6:30 बजे से रात्रि 10 तक रहेगी|