छत्तीसगढ़ में लकड़ी व्यापारी की बेरहमी से हत्या

 


छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में लकड़ी व्यापारी की बेरहमी से हत्या कर दी गई है। उसकी हत्या किसी और ने नहीं बल्कि उसके मौसेरे भाई ने ही कर दी। दोनों के बीच पैसे के लेन-देन को लेकर विवाद हुआ। जिसके चलते यह वारदात हुई। पहले तो आरोपी ने व्यापारी को शराब पिलाई थी। फिर झगड़ा करने के बाद उसका सिर कुचल दिया। जिससे युवक की मौके पर ही मौत हो गई। मामला उतई थाना क्षेत्र का है।

उतई थाना क्षेत्र के धौराभाठा (परसाही) गांव के पास लकड़ी व्यापारी का शुक्रवार सुबह शव मिला। शव की पहचान ईश्वर साहू (36 साल) निवासी अंडा के रूप में हुई। बताया जा रहा है कि वह परसाही में एक लकड़ी व्यापारी के पास 30 हजार रुपए की वसूली करने आया था। इसके बाद अगले दिन शुक्रवार सुबह उसका शव खदान के पास पड़ा हुआ मिला।

उतई थाना प्रभारी ने बताया कि ईश्वर साहू लकड़ी खरीदी और बिक्री करने का काम करता था। उसने उतई के परसाही में एक व्यापारी को लकड़ी दिया था। उसका 30 हजार रुपए उसे लेना था। वही लेने के लिए वह गुरुवार को वहां पहुंचा था। पुलिस जांच में यह बात सामने आई है कि लकड़ी व्यापारी ने ईश्वर को 30 हजार रुपए दे दिए थे। इसके बाद वह वहां चला गया था। उसके बाद उसके साथ क्या हुआ उसकी हत्या किसने की इन सवालों का पता लगाने के लिए पुलिस जांच कर रही थी।

ऐसे पकड़ा गया आरोपी

इधर, पुलिस ने मामले में जांच और तेज की, तब पुलिस को पता चला कि जिस समय से युवक लापता हुआ। उसके साथ उसका मौसेरा भाई योगेश कुमार साहू था। इस पर पुलिस ने योगेश को हिरासत में लिया। जिसके बाद योगेश ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। योगेश ने बताया कि मैंने ईश्वर से 15 हजार रुपए उधार लिए थे। जिसे वह बार बार मांगा करता था। गुरुवार रात को भी हम दोनों ने व्यापारी से वसूली करने के बाद पहले शराब पी। फिर शराब पीते-पीते ईश्वर फिर से पैसे मांगने लगा। ये देखकर मुझे गुस्सा आ गया और हम दोनों ने झगड़ा करना शुरू कर दिया। विवाद इतना बढ़ा गया कि मैंने पत्थर से उसका सिर कुचल दिया। इसके बाद मौके से भाग गया था।

गिरफ्त में आरोपी।

पुलिस ने शव मिलने के कुछ ही समय पूरी वारदात की गुत्थी को सुलझा लिया है। इस मामले में पुलिस जल्द खुलासा करेगी। फिलहाल आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी व्यापारी का मौसेरा भाई है। जो बालौद जिले का रहने वाला है। वह वर्तमान में भोपाल में टाइल्स का काम करता था।

बच्चे की हत्या मामले में आरोपियों तक पहुंची पुलिस।

उधर, अंडा थाना अंतर्गत रूदा (खाड़ा) गांव में 12 साल के बच्चे की हत्या मामले में भी पुलिस आरोपियों तक पहुंच गई है। इस मामले में पुलिस जल्द खुलासा करेगी। पता चला है कि इस हत्याकांड में आरोपी कोई और नहीं बच्चे के मोहल्ले के ही हैं। हत्याकांड में महिला और पुरुष शामिल हैं। हत्या की वारदात को पुरुष ने अंजाम दिया है।

इस मामले को खुद गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने संज्ञान में लिया था। उन्होंने आरोपियों को जल्द से जल्द पकड़ने के लिए एसपी दुर्ग डॉ. अभिषेक पल्लव से भी बात की थी। पुलिस अधीक्षक ने इस मामले की जांच के लिए साइबर सेल, क्राइम ब्रांच और एक विशेष टीम को लगाया था। सोमवार सुबह बच्चे की बोरी में बंद लाश मिली थी।