देवारी तिहार और गोवर्धन पूजा के लिए मुख्यमंत्री निवास सज-धज कर तैयार

 


 

रायपुर, छत्तीसगढ़ की परंपरा अनुसार की गई है धूमधाम से मानने की तैयारी

धान की बालियां, आम पत्ता, गेंदा फूल से मुख्यमंत्री निवास का परिसर सजाया गया है

मुख्यद्वार को गेंदाफूल, आम पत्ते से सजाया गया है। मुख्यद्वार के ऊपर बंसी बजाते कृष्ण भगवान, द्वार के दोनों ओर लाठी लिए राउत नाचा करते पुरुषों का चित्र भी बहुत आकर्षक लग रहा है

मुख्यमंत्री निवास सज-धज कर तैयार
मुख्यमंत्री निवास सज-धज कर तैयार
मुख्यमंत्री निवास सज-धज कर तैयार
मुख्यमंत्री निवास सज-धज कर तैयार
मुख्यमंत्री निवास सज-धज कर तैयार
मुख्यमंत्री निवास सज-धज कर तैयार
मुख्यमंत्री निवास सज-धज कर तैयार
मुख्यमंत्री निवास सज-धज कर तैयार
मुख्यमंत्री निवास सज-धज कर तैयार
मुख्यमंत्री निवास सज-धज कर तैयार
मुख्यमंत्री निवास सज-धज कर तैयार
मुख्यमंत्री निवास सज-धज कर तैयार
मुख्यमंत्री निवास सज-धज कर तैयार
मुख्यमंत्री निवास सज-धज कर तैयार
मुख्यमंत्री निवास सज-धज कर तैयार
मुख्यमंत्री निवास सज-धज कर तैयार
मुख्यमंत्री निवास सज-धज कर तैयार

अंदरद्वार पर दीप लिए हुए महिलाओं की प्रतिमा और राउत नाचा में पहने जाने वाले खुमरी और सजी हुई लाठियों को आकर्षक ढंग से सजाया गया है

परिसर में गौरा-गौरी पूजन स्थल पर धान की बालियों से कलश और विशेष कलाकृति बनाई गयी  है

कार्यक्रम स्थल को ग्रामीण परिवेश का स्वरूप दिया गया है, घर को भी नांगर (हल), गाड़ा चक्का, टुकनी, रापा, कुदारी, सिल-लोड़हा, खटिया, कांवर, तुलसी चौरा, कंडील (लालटेन) से सजाया गया है

दीवारों में पेड़-पौधे, तोता-मैना, सुआ नृत्य करती महिलाएं, उत्साह पूर्वक पटाखे फोड़ते बच्चे, गौरा-गौरी विसर्जन के लिए जाती हुई महिलाएं, राउत नाचा, गाय चराते और दूध दुहते ग्वाले को आकर्षक ढंग से चित्र के माध्यम से प्रदर्शित किया गया है। इसके अलावा राज्य सरकार की महत्वकांक्षी योजना नरवा, गरवा, घुरवा और बॉड़ी को भी आकर्षक ढंग से दिखाया गया है