अवैध दवाइयां बेचने पर सात मेडिकल स्टोर का रजिस्ट्रेशन निलंबित और एक का लाइसेंस निरस्त, जिला प्रशासन की बड़ी कार्रवाई

 *औषधियों के अवैध रूप से क्रय विक्रय पर लगाम लगाने के लिए प्रशासन की बड़ी कार्यवाही*


   दुर्ग ।

असल बात न्यूज़।। 

नशीली और अवैध दवाइयां बेचने के मामले में जिले में आज बड़ी कार्रवाई की गई है। जिला प्रशासन के द्वारा ऐसे मामले में कार्रवाई करते हुए जिले में विभिन्न स्थानों पर 7 मेडिकल स्टोर्स का 3 से 10 दिनों के लिए रजिस्ट्रेशन निलंबित कर दिया गया है और एक का लाइसेंस निरस्त कर दिया गया है। स्वापक एवं प्रभावी औषधियों के अवैध क्रय विक्रय को रोकने के लिए यह कार्रवाई की गई है। जिले में यह कार्रवाई काफी दिन पहले से चल रही है।

 उल्लेखनीय है कि ड्रग्स तस्करों के द्वारा युवाओं को नशे का आदि बनाने के लिए अब प्रतिबंधित दवाइयों का उपयोग किया जा रहा है। कहा जाता है कि यह दवाइयां अपेक्षाकृत सस्ती मिल जाती हैं और इनसे नशा भी अधिक होता है। सरकार के द्वारा दवाइयों की खरीदी बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया गया है लेकिन ढेर सारे मेडिकल स्टोर्स में अभी भी यह दवाइयां बेची जाने की शिकायतें मिल रही हैं। मेडिकल स्टोर के द्वारा इन प्रतिबंधित दवाइयों को बेचकर बड़ा मुनाफा कमाया जा रहा है और लोग ही यह दवाइयां खेलने के लिए और मेडिकल स्टोर में पहुंच रहे हैं। इससे नशे के आदि लोगों को सस्ते दर पर नशीली चीजें मिल जा रही हैं। यह भी कहा जाता है कि तमाम अपराध करने वाले लोग इन्हीं प्रतिबंधित दवाइयों का सेवन करने के बाद अपराध कर रहे हैं। जिले के 7 मेडिकल स्टोर का 3 से 10 दिवस  के लिए किया गया  निलंबन और भारत मेडिकल कसारिडीह का लाइसेंस   निरस्त किया गया है।यह  कार्यवाही स्वापक एवं मनः प्रभावी औषधियों के अवैध रूप से क्रय विक्रय पर लगाम लगाने के लिए कलेक्टर श्री पुष्पेंद्र कुमार मीणा के निर्देश में संपन्न हुई है। लेकिन अभी भी कई मेडिकल स्टोर्स के खिलाफ कार्रवाई किया जाना बाकी है।

  इसके लिए  मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी  और खाद्य एवं औषधि विभाग के  उपसंचालक के मार्गदर्शन में संयुक्त टीम का गठन किया गया । विगत दिनों से किए जा रहे  निरीक्षण में 8 फर्मों द्वारा स्वापक एवं मनः प्रभावी औषधियों का अवैध रूप से करें एवं विक्रय किया जाना पाया गया। जिन में अनियमितता की गंभीरता को देखते हुए उचित कार्यवाही की गई।  इनके अलावा भी चार प्रमुख फर्मों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। आज  के दिन भी खुर्सीपार क्षेत्र में कुल 14 मेडिकल स्टोर का निरीक्षण किया गया जिसमें 10 मेडिकल स्टोर बंद पाए गये व 04 मेडिकल स्टोर खुले पाए गये जिसमें सरदार मेडिकल व श्री राम मेडिकल स्टोर द्वारा औषधियों के क्रय विक्रय दस्तावेज प्रस्तुत न करने के कारण उन्हें कारण बताओ नोटिस की अनुशंसा की गई। इन कार्यवाही में क्षेत्र के पुलिस बल का भी सहयोग प्राप्त हुआ और प्रशासन ने इस प्रकार की लापरवाही के विरुद्ध आगे भी निरंतर कार्यवाही जारी रखे जाने की बात कही है।

:



असल बात न्यूज़

सबसे तेज, सबसे विश्वसनीय 

 पल-पल की खबरों के साथ अपने आसपास की खबरों के लिए हम से जुड़े रहे , यहां एक क्लिक से हमसे जुड़ सकते हैं आप

https://chat.whatsapp.com/KeDmh31JN8oExuONg4QT8E

...............


असल बात न्यूज़

खबरों की तह तक,सबसे सटीक,सबसे विश्वसनीय

सबसे तेज खबर, सबसे पहले आप तक

मानवीय मूल्यों के लिए समर्पित पत्रकारिता