जल गुणवत्ता मानकों के बारे में सेंट थॉमस कॉलेज, भिलाई में सर्टिफिकेट कोर्स का आयोजन

 भिलाई।

असल बात न्यूज़।। 

पीजी रसायन विज्ञान विभाग की ओर से दस दिवसीय प्रमाणपत्र कार्यक्रम का आयोजन किया गया।  सेंट थॉमस कॉलेज, भिलाई और APSGMNS शासकीय पीजी कॉलेज, कवर्धा जल गुणवत्ता मानकों पर 7 से 18 अक्टूबर 2022 तक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। उद्घाटन सत्र के मुख्य वक्ता केंद्रीय भूजल बोर्ड, रायपुर के वैज्ञानिक  राकेश देवांगन थे।

 उन्होंने पेयजल के भौतिक, रासायनिक और जैविक मानकों पर बात की l डॉ. एम.जी. रॉयमन, सेंट थॉमस कॉलेज, भिलाई के प्राचार्य ने अपने अध्यक्षीय भाषण में अच्छे पेयजल के महत्व के बारे में बताया। इस अवसर पर IQAC को-ऑर्डिनेटर डॉ देबजानी मुखर्जी ने भी बात की। 10 दिनों तक चले इस कार्यक्रम में दोनों कॉलेजों से 110 प्रतिभागी थे। कार्यक्रम के संयोजक डॉ. जेम्स मैथ्यू और डॉ. ऋचा मिश्रा थे। कार्यक्रम का संचालन डॉ. चंदा वर्मा व डॉ. दीप्ति जांगड़े ने किया। केन्द्रीय भूजल बोर्ड, रायपुर वैज्ञानिक के डॉ. रजनीकांत शर्मा ने अपने समापन भाषण में जल गुणवत्ता मानकों की सत्यापन प्रक्रिया के बारे में बताया। इस कार्यक्रम में अलग-अलग दिनों में 18 वक्ता थे। कार्यक्रम के संचालन में डॉ. अरविन्द कुमार साहू, सुश्री मोहिनी शर्मा एवं श्री अनिल वर्गीस ने सहयोग किया। रेव. फादर डॉ. जोशी वर्गीज, प्रशासक सेंट थॉमस कॉलेज, भिलाई ने कार्यक्रम की सराहना की।