AAP मंत्री ने दिल्ली के LG पर लगाया झूठा आरोप

 


नई दिल्ली. दिल्ली सरकार के प्रस्तावित अभियान 'रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ' से प्रदूषण को रोकने में कितनी मदद मिलेगी यह तो आने वाले समय में साफ होगा, फिलहाल इस पर विवाद का 'धुआं' छा गया है। आम आदमी पार्टी (आप) सरकार के मंत्री गोपाल राय ने गुरुवार को एलजी वीके सेक्सेना पर आरोप लगाया कि उन्होंने फाइल रोक ली है और इसलिए 28 अक्टूबर से अभियान की शुरुआत नहीं हो पाएगी। अब भाजपा ने फाइल की तस्वीर शेयर करते हुए दावा किया है कि मंत्री ने एलजी पर झूठा आरोप लगाया। भाजपा का कहना है कि सरकार ने एलजी के पास जो फाइल भेजी है उसमें अभियान की तारीख 31 अक्टूबर बताई है। इसके अलावा यह फाइल 21 अक्टूबर को एलजी के पास भेजी गई और 27 तक छुट्टियां थीं।

दिल्ली बीजेपी के वरिष्ठ नेता हरीश खुराना ने शुक्रवार को एक ट्वीट के जरिए दावा किया कि गोपाल राय ने झूठा आरोप लगाया था। उन्होंने फाइल की तस्वीर शेयर करते हुए लिखा, ''दिल्ली के मंत्री गोपाल राय का झूठ सामने आया। कह रहे थे एलजी साहब ने फाइल साइन नहीं की इसलिए 28 तरीख से शुरू कैंपेन को रोका जाता है, जबकि फाइल जो एलजी साहब के यहां भेजी गई उसमें कैंपेन शुरू करने की तारीख 31 थी। फाइल भेजी 21 को जबकि 27 तक ऑफिस बंद थे। पोल खुल गई।''

एलजी ऑफिस के सूत्रों ने भी इसकी पुष्टि की है। इसके अगले दिन से छुट्टी थी और उसके बाद दफ्तर 27 अक्टूबर को ही खुले हैं। इसी दिन पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने संवाददाता सम्मेलन बुलाकर आरोप लगाया कि उपराज्यपाल ने अभियान की अनुमति वाली फाइल लटका रखी है। 28 अक्टूबर से इस अभियान को शुरु करना था लेकिन अभी तक अनुमति नहीं मिली है। इसलिए अभियान को फिलहाल स्थगित कर दिया गया है। ऐसे समय में यह आरोप लगाए गए जब उपराज्यपाल अपने कार्यालय में मौजूद नहीं थे। वह असोला भाटी माइंस गए हुए थे और वहां से उन्हें राष्ट्रपति भवन जाना था। उधर उपराज्यपाल सचिवालय से जुड़े सूत्रों का कहना है कि इस फ़ाइल में अभियान को 31 अक्टूबर से शुरु करने की बात लिखी गई है। यह झूठा आरोप इसलिए लगाया गया ताकि उपराज्यपाल पर फाइल मंजूर करने के लिए दबाव डाला जा सके।

मंत्री ने लगाया आरोप, केजरीवाल ने किया अटैक
एक दिन पहले ही दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने दावा किया था कि एलजी ने इस अभियान की फाइल रोक ली है और इसलिए 28 तारीख से इसकी शुरुआत नहीं हो पाएगी। उन्होंने ट्वीट किया, ''गाड़ियों के प्रदूषण को कम करने के लिए 28 तारीख से शुरू होने वाले 'रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ' कैंपेन को LG साहब द्वारा फाइल रोकने की वजह से स्थगित करना पड़ रहा है जो बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है।'' गोपाल राय के इस आरोप के बाद दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने भी एलजी पर बड़ा हमला किया। उन्होंने कहा, ''यह वाकई बहुत निराशाजनक है कि प्रदूषण पर अंकुश लगाने की कोशिश 'गंदी राजनीति' की वजह से रोकी जा रही है।'' उन्होंने कहा कि 'रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ' अभियान ने इन सालों में प्रदूषण कम करने में अहम भूमिका निभाई। लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ न करें।''