चिरमिरी कोल माइंस में चोर गिरफ्तार, कीमती सामान जब्त

 


मनेंद्रगढ़ चिरमिरी भरतपुर : एमसीबी के एसईसीएल चिरमिरी कोल माइंस में चोरियों पर लगातार कार्यवाई करते हुए पुलिस प्रशासन मुस्तैद है.लेकिन एसईसीएल प्रबंधन चोरियों पर लगाम लगा पाने में असमर्थ  है.एसईसीएल कार्यक्षेत्र और माइंस की सुरक्षा करने में पूरी तरह से नाकाम साबित दिख रहा है. एसईसीएल चिरमिरी कोल उत्खनन कर रही है. लेकिन विडंबना कहेंगे कि यहां के एसईसीएल महाप्रबंधक और कोयले की खदान के अधिकारी खदानों को सुरक्षित कर पाने में पूरी तरह से नाकाम साबित हो रहे हैं.

 इसी क्रम में हल्दीबाड़ी 6 नंबर गोलाई के पास एक कबाड़ी के यहां काम करने वाले कुछ लोगों को पकड़ा गया. चोरी करने वाले चोरों के पास से कीमती माइनिंग केबल जो ताबे के रूप में जब्त किए गए हैं. चोर अपने आकाओं का नाम नहीं बता रहे. लेकिन चिरमिरी क्षेत्र की बात की जाए तो कबाड़ियों के पास चोरी का माल खपाया जाता है.

एसईसीएल हल्दीबाड़ी माइन 6 से ट्रेवलिंग आर्म्ड केबल (कीमती तांबा तार) रात में अज्ञात चोरों ने काटकर चोरी कर लिया था. जिसके संबंध में रिपोर्ट प्राप्त होने पर तत्काल अज्ञात चोरों की खोजबीन की गई. जिसमे बादल कुशवाहा काछी और मंगल कुशवाहा काछी को पकड़ा गया. दोनों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है. उनके कब्जे से चोरी का माल तांबा तार लगभग 45 किलो को जब्त किया गया.आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया है.

 गौरतलब हो कि जब इस मसले पर कोयला उत्खनन करने वाली एसईसीएल महाप्रबंधक या अन्य संबंधित अधिकारियों से बात की जाती है तो सिर्फ गोल मटोल बातें बता कर अपना पल्ला झाड़ लेते हैं. वहीं पुलिस प्रशासन इन कबाड़ चोरों पर सतत निगरानी करते हुए कार्यवाही कर रही है.