सीएसवीटीयु के रोजगारोन्मुखी पाठ्यक्रम डिप्लोमा,बी.टेक. (आनर्स) व एम. टेक. में प्रवेश के लिए रजिस्ट्रेशन प्रारम्भ

 भिलाई ।

असल बात न्यूज़।।


छत्तीसगढ़ स्वामी विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय, भिलाई के  शिक्षण विभाग के डिप्लोमा, इंजीनियरिंग और एमटेक में प्रवेश के लिए प्रथम चरण हेतु रजिस्ट्रेशन करने की तिथि 12 सितंबर से 16 सितंबर घोषित  कर दी गई है I जिसकी विस्तृत जानकारी विश्विद्यालय के वेबसाइट www.csvtu.ac.in पर उपलब्ध है। सीएसवीटीयु के विश्वविद्यालय शिक्षण विभाग ( यु टी डी) के रोजगारोन्मुखी पाठ्यक्रम में सत्र २०२२-२३ के लिए ऑनलाइन काउंसलिंग के द्वारा डिप्लोमा,बीटेक आनर्स व एमटेक में प्रवेश के लिए रजिस्ट्रेशन प्रारम्भ हो गया है , इच्छुक अभ्यर्थी www.cgdteraipur.cgstate.gov.in की वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते है, जिसका विवरण निम्नानुसार है:

*Diploma*

Diploma in Mining Engineering-60 Seats

Diploma in Industrial Safety & Fire Safety Engineering-60 seats

प्रथम चरण की तिथि १२ सितम्बर २०२२ पूर्वान्ह ११ बजे से १६ सितम्बर २०२२ अपरान्ह ३ बजे तक

द्वितीय चरण की तिथि २६ सितम्बर २०२२ पूर्वान्ह ११ बजे से २८ सितम्बर २०२२ अपरान्ह ३ बजे तक

*बी टेक आनर्स के दोनों ब्रांच में ९०-९० सीटे है।  जिसमे ४५ सीट CG DTE के द्वारा में ४५ सीट आल इंडिया कोटा से JOSAA के द्वारा भरा जायेगा।*

*B.Tech (Honours)*

B.Tech in Computer Science & Engineering( Artificial Intelligence)-45 Seats

B.Tech in Computer Science & Engineering (Data Science )-45 Seats

प्रथम चरण की तिथि १२ सितम्बर २०२२ पूर्वान्ह ११ बजे से १६ सितम्बर २०२२ अपरान्ह ३ बजे तक

द्वितीय चरण की तिथि २६ सितम्बर २०२२ पूर्वान्ह ११ बजे से २८ सितम्बर २०२२ अपरान्ह ३ बजे तक

*M.Tech.*

Biomedical Engineering & Bioinformatics- 18 Seats

Energy & Environmental Engineering-18 Seats

Environmental & Water Resources Engineering-18 Seats

Microelectronics & VLSI-18 Seats

Structural Engineering -18 Seats

 Steel Technology - 18 Seats

प्रथम चरण की तिथि १४ सितम्बर २०२२ पूर्वान्ह ११ बजे से १७ सितम्बर २०२२ अपरान्ह ३ बजे तक

द्वितीय चरण की तिथि २६ सितम्बर २०२२ पूर्वान्ह ११ बजे से २८ सितम्बर २०२२ अपरान्ह ३ बजे तक

सीएसवीटयू ने प्रथम वर्ष में प्रवेश ले रहे विद्यार्थियों के लिये शासन के नियमानुसार आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए छात्रवृत्ति का भी प्रावधान है जिसमें छात्रों की संपूर्ण शुल्क छात्रवृत्ति से वापस मिल जाता है इसप्रकार देखा जाए तो छात्रों को निःशुल्क है तकनीकी शिक्षा का लाभ मिलता है l सीएसवीटयू का डिप्लोमा, बीटेक व एमटेक/एम प्लान पाठ्यक्रम पूर्णतः रोजगारोन्मुखी है। इस प्रोग्राम में पाठ्यक्रम का निर्माण समसामयिक औद्योगिक परिवेशों, तकनीकों और भविष्य की संभावनाओं को ध्यान में रखकर बनाया गया है l विश्वविद्यालय शिक्षण विभाग का उद्देश्य सिर्फ शिक्षा देने तक सीमित नहीं है बल्कि उत्तीर्ण छात्रों के लिए रोजगार सुनिश्चित करना भी है इसलिए विश्वविद्यालय प्रशासन निरंतर विभिन्न राष्ट्रीय एवं बहुराष्ट्रीय कंपनियों से एमओयू कर रही है जिनमें कई शासकीय व अर्धशासकीय व निजी कंपनियां शामिल है। सर्वाधिक रोजगार की दृष्टि से डिप्लोमा माइनिंग और फायर सेफटी पाठ्यक्रमों के साथ बी.टेक.(ऑनर्स) के दोनों पाठ्यक्रम है जिसकी डिमांड औद्योगिक क्षेत्र में बहुत ज्यादा है यह पाठ्यक्रम बहुत कम संस्थाओं में संचालित है इसलिए औद्योगिक क्षेत्रों में मांग के अनुसार पद भर नहीं पाते और बहुत से पद रिक्त रहते है।