ब्रेक डांस झूले में खड़े होकर सेल्फी लेते हुए गिरा युवक, गंभीर घायल

 


 भिलाई के सेक्टर-1 स्थित भूतिया गणेश पंडाल में एक युवक सेल्फी लेने के चक्कर में ब्रेक डांस झूले से गिरकर बुरी तरह घायल हो गया। युवक को गंभीर हालत में शहर के निजी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। वहां आईसीयू में उसका उपचार चल रहा है। युवक की हालत गंभीर बताई जा रही है।
जानकारी के मुताबिक रायपुर तेलीबांधा निवासी विनय तुलानी भिलाई (29) अपने दो दोस्तों के साथ गणेश देखने भिलाई पहुंचा था। रात 12-1 बजे के बीच वह ब्रेक डांस झूला झूलने के लिए गया था। वहां जैसे ही झूला शुरू हुआ वह सेफ्टी लॉक खोलकर खड़ा हो गया और सेल्फी लेने लगा। झूला तेज होने और झटके लगने से वह गिर गया और उसके सिर व हाथ पैर में काफी चोटें आई। सीजी मिरर्स कल्चर गणेशोत्सव समिति के महासचिव धन्नू मिश्रा ने बताया कि उन्होंने ब्रेक डांस झूले वाले से घटना के बारे में जानकारी ली। उसने बताया कि युवक शराब के नशे में था। ब्रेक डांसझूला शुरू होते ही वह लॉक खोलकर खड़ा हो गया। जिसकी वजह से वह गिर गया और सिर पर गहरी चोट लगी है। दुर्घटना के बाद तुरंत 112 को फोन किया गया। इसके बाद घायल को अस्पताल पहुंचाया गया। युवक की हालत गंभीर बताई जा रही है।
झूला वाले की सुरक्षा को लेकर उठ रहे सवाल
बताया जा रहा है कि घायल विनय सोलानी शराब के नशे में था। उसे एक बार झूले वाले ने झूले से उतारा भी था। इसके बाद युवक जिद करके ब्रेक डांस झूले में दूसीर बार चढ़ा और दुर्घटना हो गई। ऐसे में झूला वाले की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़ा होता है। यदि युवक नशे में था और एक बार उसे झूलने से मना किया गया तो दूसरी बार क्यों चढ़ने दिया गया। एक नशे की हालत में पहुंचा युवक इतनी जिद कैसे कर सकता है कि समिति वाले उसकी जान जोखिम में डालकर झूलने की अनुमित दे दें।
इतना बड़ा झूले का आयोजन और उपचार की व्यवस्था नहीं
गणेश उत्सव के दौरान समितियां किराया लेकर झूले वालों को जगह देते हैं। झूले वाले झूला लगा तो लेते हैं, लेकिन कहीं भी प्राथमिक चिकित्सा व्यवस्था का कोई इंतजाम नहीं रहता है। सेक्टर 1 की घटना में ऐसा ही हुआ। युवक का सिर फट गया काफी खून बह रहा था, लेकिन न तो समिति और न झूला आयोजक के पास प्राथमिक उपचार की कोई व्यवस्था नहीं थी। जब तक 112 की टीम पहुंची और उसे अस्पताल पहुंचाया गया, घायल का काफी खून बह गया था।