ऐसे की जाती है भिलाई इस्पात संयंत्र से लोहा चोरी, कहीं का माल, झाड़ियों के पीछे उतारने के लिए पहुंचा दिया गया

 भिलाई।

असल बात न्यूज़।। 

समाज सेवा के अपने कार्यों में तमाम तरह की कटौती कर रहे प्रतिष्ठित भिलाई इस्पात संयंत्र से लोहा चोरी की घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही है। अपराधिक तत्व तरह-तरह के नए तरीकों से लोहा चोरी की घटनाओ को अंजाम दे रहे हैं। अभी इसी तरह का एक मामला सामने आया है जिसमें चोरी करने के लिए से ब्रांड के भीतर से लोहा ब्लूम उठाकर उसे निर्धारित स्थान पर उतारने के बजाय झाड़ियों के पीछे छुपाने की कोशिश की गई। मामला सीआईएसफ जवानों के नजर में आ गया और आरोपियों को पकड़ लिया गया। मामले में लगभग 10 लाख टन लोहा ब्लूम बरामद किया गया है। दुर्ग लोकसभा क्षेत्र के सांसद विजय बघेल के द्वारा चोरी की घटनाओ को नियंत्रित करने के लिए संयंत्र प्रबंधन को कड़े उपाय करने के लिए कई बार कहा गया है।

पुलिस और केंद्रीय सुरक्षा बल से मिली जानकारी के अनुसार उपर्युक्त घटना आज सुबह की है। आरोपियों को duty पर तैनात एरिया सर्चिंग पर निकले सी आई एस एफ के जवानों ने पकड़ा। मामले में एक ट्रक क्रमांक सीजी 07सी बी 367 को रंगे हाथों पकड़ा गया है जिसमें भरकर लोहा ब्लूम को शिफ्ट किया जा रहा था। ट्रक ड्राइवर को पकड़ कर पूछताछ की गई तो उसने बताया कि उसे अपने अन्य साथियों की मदद से लोहा ब्लूम के टुकड़ों को  यू आर एम से उठाकर एम आर डी के एफ एस एन एल एरिया में खाली करना था। किंतु उक्त लोहा ब्लूम जिसकी कीमत लगभग ₹2 लाख रुपए बताई जा रही है को एफ एस एन एल एरिया के शेड में ले जाने के बजाय टी एन डी बिल्डिंग के समीप झाड़ियों के पीछे उतारने के लिए पहुंचा दिया गया। 

बताया जाता है कि उक्त ड्राइवर के दूसरे साथी उक्त स्थल पर पूर्व से तैनात खड़े थे। यह सभी आरोपी एफ एस एन एल के ठेका कर्मी बताए जाते हैं, जिन्हें पकड़ लिया गया है।इस मामले को पकड़ने में भिलाई भट्टी पुलिस की भी उल्लेखनीय भूमिका रही है।





असल बात न्यूज़

सबसे तेज, सबसे विश्वसनीय 

 पल-पल की खबरों के साथ अपने आसपास की खबरों के लिए हम से जुड़े रहे , यहां एक क्लिक से हमसे जुड़ सकते हैं आप

https://chat.whatsapp.com/KeDmh31JN8oExuONg4QT8E

...............

................................

...............................

असल बात न्यूज़

खबरों की तह तक, सबसे सटीक , सबसे विश्वसनीय

सबसे तेज खबर, सबसे पहले आप तक

मानवीय मूल्यों के लिए समर्पित पत्रकारिता