अजय देवगन की फिल्‍म 'थैंक गॉड' को लेकर मप्र में उठे विरोध के सुर

 


भोपाल। पिछले कुछ समय से खासकर बालीवुड फिल्‍मों को लेकर देखा जा रहा है कि रिलीज से पहले ही इनको लेकर विवाद शुरू हो जाता है। इसमें ताजा नाम अजय देवगन और सिद्धार्थ मल्‍होत्रा की आगामी फिल्‍म 'थैंक गाड' का जुड़ गया है, जिसमें भगवान चित्रगुप्‍त के चित्रण को लेकर अनेक जगहों से विरोध के सुर उठने लगे हैं। मध्‍य प्रदेश में भी इस फिल्‍म को प्रतिबंधित करने की मांग करते हुए हिंदू संगठन विरोध में उतर आए हैं। खासकर कायस्‍थ समाज धार्मिक भावनाओं को आहत करने की मांग करते हुए इस फिल्‍म पर प्रतिबंध लगाने की मांग कर रहा है। इस संदर्भ में प्रदेश के चिकित्‍सा शिक्षा मंत्री विश्‍वास सारंग ने केंद्रीय सूचना व प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर को पत्र भी लिखा है। यह फिल्म 24 अक्टूबर को सिनेमाघरों में प्रदर्शित होने वाली है।

naidunia

मंगलवार को मंत्री विश्‍वास सारंग ने यह मुद्दा उठाते हुए एक के बाद एक कई ट्वीट किए और लिखा कि बॉलीवुड फिल्म 'थैंक गॉड' में जिस तरीके से भगवान चित्रगुप्त महाराज पर अशोभनीय टिप्पणी की गई है। उससे हिंदू समाज की धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं। ऐसे दृश्यों का फिल्मांकन नहीं होना चाहिए। इस फिल्म को बैन किया जाना चाहिए। फिल्म 'थैंक गाड' में आपत्तिजनक और अभद्र सीन से पूरे हिंदू समाज में गुस्सा है। इस फिल्म पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाई जानी चाहिए। फिल्म 'थैंक गाड' में जिस तरह से हमारे आराध्यदेव का मजाक उड़ाया गया है, उससे समाज की धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं। बॉलीवुड फिल्मों और ओटीटी पर लगातार हिंदू धर्मों का उपहास करना हिंदू विरोधी मानसिकता दर्शाता है। जिसका संपूर्ण हिंदू समाज विरोध करता है।