गौतम अडानी का 'फार्च्यून' और बाबा रामदेव की 'रुचि' आज आसमान पर

 


नई दिल्ली. फेस्टिवल सीजन से जस्ट पहले खाने के तेल की डिमांड बढ़ने और कीमतों में भी तेजी आने की संभावना है। इससे खाद्य तेल कंपनियों के शेयर उड़ान भर रहे हैं। आज यानी बुधवार को भी अडानी विल्मर और पतंजलि फूड्स के शेयर  में 5-5 प्रतिशत अपर सर्किट लगा है।

अडानी विल्मर के शेयर 800 रुपये के पार 

अडानी विल्मर के शेयर लगभग चार महीने के हाई  808.10 रुपये पर पहुंच गए हैं। पिछले 5 दिनों में यह शेयर 13.43 प्रतिशत बढ़ा है। एक महीने में यह 11 फीसद से अधिक जबकि, इस साल अबतक इसने 201 फीसद की उड़ान भरी है। इसका 52 हफ्ते का हाई 808.10 रुपये और लो 227 रुपये है।  बता दें कि कंपनी का प्रमुख ब्रांड 'फॉर्च्यून' भारत का सबसे बड़ा खाद्य तेल ब्रांड है।

AWL का इरादा स्थिर विकास हासिल करना और सभी प्रमुख पैकेज्ड फूड सेगमेंट में भारत की सबसे बड़ी फूड FMCG कंपनी बनना है। इसके अलावा, कंपनी का लक्ष्य अपने डिस्ट्रिब्यूटर नेटवर्क को मजबूत करना और टियर- III शहरों और ग्रामीण परिदृश्य में प्रवेश करने के लिए निर्बाध आपूर्ति लाइनों को सुनिश्चित करना है। साथ ही कंपनी रेडी-टू-कुक और रेडी-टू-ईट सेगमेंट में अपने प्रोडक्ट्स लाने जा रही है। इन तमाम वजहों से यह शेयर पाॅजिटिव संकेत दे रहा है। 

अगर बाबा रामदेव की कंपनी पंतजलि फूड्स की बात करें तो इस शेयर ने भी दूसरे दिन उड़ान भरी है। आज पतंजलि फूड्स के शेयरों में भी जबरदस्त तेजी दिख रही है। कंपनी के शेयर एनएसई पर 5% चढ़कर 1,467.25 रुपये पर पहुंच गए हैं।  पिछले एक महीने में यह शेयर 34% से अधिक चढ़ चुका है। वहीं, इस साल अबतक यह 41.18 फीसद ही चढ़ पाया है, जो अडानी विल्मर की तुलना में कम है। बाबा रामदेव की इस कंपनी का प्रमुख ब्रांड रुचि सोया है।