स्वरुपानंद महाविद्यालय में ‘माइक्रोबॉयलाजिस्ट सोसायटी’ का गठन एवं अतिथि व्याख्यान

 

भिलाई ।

असल बात न्यूज़।। 

स्वामी श्री स्वरुपानंद महाविद्यालय हुडको भिलाई में ‘माइक्रोबॉयलाजिस्ट सोसायटी’ का गठन किया गया। ‘माइक्रोबॉयलॉॅजिस्ट सोसायटी’ गठन करने का मुख्य उद्देश्य विद्यार्थियों को सूक्ष्मजीव विज्ञान के क्षेत्र में होने वाले प्रयोगो से संबंधित जानकारी देना एवं इस क्षेत्र में नवाचार के माध्यम से रोजगार हेतु प्रोत्साहन और विषय को रुचिकर बनाने हेतु विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन करना है। 

इस अवसर पर मुख्य अतिथि डॉ अवधेश कुमार श्रीवास्तव विभागाध्यक्ष सूक्ष्मजीव विज्ञान, वनस्पति शास्त्र डीएनटीपीजी कॉलेज, उतई रहे जिन्होंने साइनोबैक्टिरिया का संधारणीय विकास में महत्तव पर व्याख्यान दिया उन्होंने कहा कि साइनोबैक्टिया का उपयोग विस्तारपूर्वक विभिन्न बायोरिसोर्स में किया जा सकता है जैसे-बॉयो एजेन्ट्स, स्ट्रेस टालेरेन्स इत्यादि ये धान के खेतो में नाइट्रोजन की उपलब्धता बढ़ाते है। विद्यार्थियों द्वारा विषय से संबधित अपनी जिज्ञासाओं का भी निराकरण किया गया। उन्होंने नवनिर्वाचित पदाधिकारियों को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि हमें फ्लेवर सेवर टोमेटो युग के विद्यार्थियों से बहुत उम्मीद है।

महाविद्यालय के मुख्य कार्यकारिणी अधिकारी डॉ दीपक शर्मा ने सभी चयनित पदाधिकारियों को बधाई दी तथा माईका्रेबायोलाजिस्ट सोसायटी के गठन की सराहना की।

इस अवसर पर महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ हंसा शुक्ला द्वारा नवनिर्वाचित पदाधिकारियों को शपथ दिलाई गई एवं सोसाइटी के कार्य एवं महत्व से नवनिर्वाचित सदस्यों को परिचित कराया तथा अपने कर्तव्यों का निष्ठापूर्वक पालन करने हेतु प्रेरित किया।

महाविद्यालय की उपप्राचार्य डॉ अजरा हुसैन ने सभी पदाधिकारियों को बधाई दी व उत्साहवर्धन किया।

सूक्ष्मजीव विज्ञान की विभागाध्यक्ष डॉ शमा ए बेग ने कहा कि गत् वर्ष की तरह इस वर्ष भी माइक्रोबायलॉजिस्ट सोसायटी का गठन किया जा रहा है। इस वर्ष 15 विद्यार्थियों ने ‘माइक्रोबायलाजिस्ट सोसायटी ऑफ इंडिया’ में नामाकंन किया, विद्यार्थियों को प्रोत्साहित कर इस दिशा में महत्वपूर्ण योगदान देने हेतु प्रेरित किया।

कार्यक्रम की रुपरेखा सह संयोजिक सुश्री योगिता लोखंडे ने तैयार की एवं विद्यार्थियों को प्रोत्साहित किया। सप्रा सूक्ष्मजीव विज्ञान अमित कुमार साहु ने तकनीकि सहयोग प्रदान किया। कार्यक्रम में विभागाध्यक्ष बायोटेक्नोलॉजी डॉ शिवानी शर्मा, विभागाध्यक्ष रसायनशास्त्र डॉ रजनी मुदलियार, विभागाध्यक्ष जंतुविज्ञान श्रीमति सुनीता शर्मा, विभागाध्यक्ष वनस्पति विज्ञान डॉ श्वेता गायकवाड़ अतिथि रहे एवं उन्होनें छात्रों का मनोबल बढ़ाया।

अतिथि व्याख्यान के पश्चात् आभार प्रदर्शन सह संयोजिका सप्रा सूक्ष्मजीव विज्ञान सुश्री योगिता लोखंडे ने किया।

माइका्रेबायलॉजिस्ट सोसायटी कि चयनित विभिन्न पदाधिकारी निम्न है- अध्यक्ष- सृष्टि सोनी एमएससी तृतीय सेमेस्टर, उपाध्यक्ष- अक्षिता पांडे एमएससी प्रथम सेमेस्टर, सचिव- दीपिका पटेल बीएससी तृतीय वर्ष, सहसचिव- देबीना यादव बीएससी द्वितीय वर्ष, कोषाध्यक्ष- अनुरुपा एमएससी प्रथम सेमेस्टर, सदस्य- अदिति पांडे, कोमल देवागंन, रानू यादव एवं पूजा साहू जो विभिन्न कार्यो में संलग्न रहे।