स्वरुपानंद महाविद्यालय मेें ‘विश्व पर्यटन दिवस’ मनाया गया

 भिलाई ।

असल बात न्यूज़।। 

स्वामी श्री स्वरुपानंद सरस्वती महाविद्यालय हुडको भिलाई मेें ‘विश्व पर्यटन दिवस’ का आयोजन किया गया। हर साल 27 सितंबर को विश्व पर्यटन दिवस मनाया जाता है। वाणिज्य विभाग द्वारा इसके उपल्क्ष्य में विविध कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। 

कार्यक्रम के उद्देश्यो पर प्रकाश डालते हुए वाणिज्य के विभागाध्यक्ष निधि पांडे ने बताया कि विद्यार्थियों का पर्यटन क्षेत्र में जागरुकता लाने और इस क्षेत्र में रोजगार के अपार संभावनाओं से अवगत कराना है। 

महाविद्यालय के मुख्य कार्यकारिणी अधिकारी डॉ दीपक शर्मा ने पर्यटन दिवस मनाने के लिए विभाग को बधाई दी। पर्यटन क्षेत्र के अपार संभावनाओं से विद्यार्थियों को अवगत कराने के लिए किये गये प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि ऐसे आयोंजनों से विद्यार्थियों को अपनी रचनात्मकता दिखाने का अवसर प्राप्त होता है और देश सांस्कृतिक धरोवरों से परिचित होते है।

महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ हंसा शुक्ला ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि भारत में पर्यटन सबसे बड़ा सेवा उद्योग है इसका राष्ट्रीय सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) और भारत के कुल रोजगार में बहुत बड़ा योगदान है। पर्यटन से भारत के बुनियादी ढांचे में काफी सुधार हुआ है जिससे पर्यटन के क्षेत्र में अच्छी प्रगति हुई है।

कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्जवलन व सरस्वती वंदना से किया गया। कार्यक्रम का संचालन वैदिक शुक्ला बीकॉम तृतीय वर्ष और पूर्वी गुप्ता बीकॉम तृतीय वर्ष ने किया। कार्यक्रम के प्रथम चरण में वीडियो द्वारा विद्यार्थियों ने अपने भ्रमण किये गये स्थानों का वीडियो, सांसकृतिक, ऐतिहासिक और प्राकृतिक महत्व को चित्रित किया। इन वीडियों के द्वारा अलग-अलग पर्यटक स्थलों की जानकारी प्राप्त हुई जिसमें भारत के सुंदर पर्यटन स्थल कोंकण, छत्तीसगढ़, पुणे, बैंगलोर, केरल, बनारस आदि के पर्यटन स्थल शामिल थे। ये वीडियो ज्ञानवर्धक होने के साथ वहां उपस्थित लोगों को ऐसा महसूस करा रहे थे किस वे उस पर्यटक स्थल में है। 

कार्यक्रम के दूसरे चरण में वाद-विवाद प्रतियोगिता और प्रश्नोत्तरी का कार्यक्रम रखा गया। वाद-विवाद का विशय ‘संस्कृति और अर्थव्यवस्था के विकास में का केन्द्र बिंदु क्या पर्यटन है’ था इसमें छात्रो ने पक्ष और विपक्ष में बोला नेहा राय बीकॉम द्वितीय वर्ष, विवेक चौबे एमएससी प्रथम वर्ष, वेदिका लाड बीकॉम प्रथम वर्ष ने विपक्ष में अपने विचार रखे और कृति दुबे बीकॉम तृतीय वर्ष, नलशी जैन बीबीए प्रथम वर्ष ने पक्ष में अपने विचार प्रस्तुत किए। नलशी जैन ने पक्ष में अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा अर्थव्यवस्था का विकास और रोजगार के अवसर, संस्कृति को जानने का अवसर हमे पर्यटन प्रदान करती है। वेदिका लाड ने भी पर्यटन से भारत की संस्कृति को विश्व स्तर पर बढ़ाने की बात रखी। कृति ने भी संास्कृतिक अंतर को कम करने में पर्यटन के योगदान से अवगत कराया। नेहा राय ने विपक्ष में बोलते हुए कहा कि देश की सुरक्षा को पर्यटन से चुनौती मिलती है और इसमें घुसपैठ की संभावना बढ़ जाती है विवेक ने पर्यटन स्थलों में गंदगी और नये शहरो में घूमने जाने पर धोखाधड़ी की संभावना को बताया।

कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए प्रश्नमंच का आयोजन किया गया इसका संचालन श्रीमती जीनत सुलताना सप्रा वाणिज्य विभाग एवं श्री हितेश सोनवानी सप्रा अंग्रेजी ने किया।

कार्यक्रम के निर्णायक डॉ शमा ए बेग विभागाध्यक्ष माईक्राबायोलॉजी, एपी रुपाली खर्चे विभागाध्यक्ष कम्प्यूटर साइंस थे। वीडियो मेकिंग में पूर्वी गुप्ता बीकॉम तृतीय वर्ष विजेता रही, ऐलन थोमस बीकॉम तृतीय वर्ष, पी एम डेजी बीकॉम तृतीय वर्ष का वीडियों का सराहनीय रहा। वाद-विवाद प्रतियोगिता मेें पक्ष में कृति डरबे बीकॉम तृतीय वर्ष और विपक्ष में नेहा राय बीकॉम द्वितीय वर्ष को प्रथम स्थान मिला।

कार्यक्रम में धन्यवाद ज्ञापन डॉ शर्मिला सामल ने दिया। कार्यक्रम में श्रीमती खुशबू पाठक विभागाध्यक्ष प्रबंध और श्रीमती सुनीता शर्मा विभागाध्यक्ष प्राणीशास्त्र विशेष रुप से उपस्थिति थे। कार्यक्रम को सफल बनाने में विणिज्य विभाग के सभी प्राध्यापक और विद्यार्थियों का योगदान रहा।