जगदलपुर से बीजापुर का संपर्क टूटा शंकनी नदी में बाढ़ की वजह से नेशनल हाइवे बंद

 


बीजापुर। छत्‍तीसगढ़ के बस्‍तर संभाग में भारी बारिश से एक बार फिर तबाही मचाई है। इधर, बीजापुर जिले में लगातार हो रही बारिश की वजह से नदी-नाले उफान पर हैं। ऐसे में जगदलपुर से बीजापुर का संपर्क टूट गया है। बांगापाल तुमनार शंकनी नदी में बाढ़ की वजह से बीजापुर नेशनल हाइवे बंद हो गया है। बांगापाल, नेलसनार में बीजापुर से जाने वालों वाहनों की लगी कतार लग गई है।

भारी वर्षा से बीजापुर जिला मुख्यालय का कई गांवों से संपर्क टूटा

कृषि वैज्ञानिक भीरेंद्र पालेकर ने बताया कि कल रात से आज सुबह तक 94 मिमी बारिश हुई। जो रिकार्ड किया गया है। बीजापुर जिले में भोपालपटनम, चेरपाल, कुटरू, मिरतुर तोयनार का संपर्क जिला मुख्यालय से दो दिन से टूटा है। लगातार बारिश से फिर जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। सैकड़ों गांव जिला मुख्यालय से कट गए हैं।

कलेक्टर द्वारा बाढ़ से निपटने के लिए सभी आपदा प्रबंधन व नगर सैनिकों को रेस्क्यू आपरेशन करने तैनात किया गया है। जिले के बाढ़ ग्रस्त इलाकों में तहसीलदार, राजस्व निरीक्षक सहित पटवारी, पंचायत सचिवों की ड्यूटी लगाई गई है। नगर सैनिक की टीम बाढ़ क्षेत्र में रेस्क्यू कर राहत पहुंचाने का काम कर रही है।

बाढ़ के कारण चार घंटे बाधित रहा राष्ट्रीय राजमार्ग

बीजापुर में पिछले 24 घंटे से क्षेत्र में रुक-रुककर हो रही वर्षा के कारण नदी नाले उफान पर हैं। इसके साथ ही एक बार जनजीवन अस्त-व्यस्त होने लगा है। रविवार सुबह राष्ट्रीय राजमार्ग 63 पर बीजापुर-भोपालपटनम के बीच मोदकपाल नाला में बाढ़ का पानी पुल से ऊपर बहने के कारण चार घंटे से अधिक समय तक आवागमन बंद रहा। शाम चार बजे मार्ग खुलने तक यात्री वाहन सड़क के दोनों ओर खड़े रहे। इससे यात्रियों को परेशान होना पड़ा।